कोरोना की दूसरी लहर में टूटे सारे रिकॉर्ड, देश के किन शहरों में लगा है लॉकडाउन - Ideal India News

Post Top Ad

कोरोना की दूसरी लहर में टूटे सारे रिकॉर्ड, देश के किन शहरों में लगा है लॉकडाउन

Share This
#IIN



 देश कोरोना की दूसरी बड़ी लहर की चपेट में है। कोरोना के कहर को देखते हुए दिल्ली समेत कई राज्यों ने अपने यहां लॉकडाउन , नाइट कर्फ्यू , वीकेंड लॉकडाउन जैसे कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। देश में कोरोना की दूसरी लहर ने अब तक के सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए। ताजा आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में कोरोना के 1,15,239 नए मामले दर्ज किए गए हैं। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक प्रतिदिन मिलने वाले नए संक्रमितों की यह सर्वोच्च संख्या है। रविवार के बाद यह दूसरा मौका है, जब एक दिन में एक लाख से अधिक नए मामले मिले हैं।

महाराष्ट्र में हालात बेहद ही खराब हैं, वहां वीकेंड लॉकडउन और नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है। इसके अलावा दिल्ली में भी नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है। अन्य राज्यों में भी हालात बेहतर नहीं हैं, कई अन्य राज्यों में भी वीकेंड लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू जैसे प्रतिबंध लगाए गए हैं। ऐसे में बड़ा सवाल है कि क्या देश एकबार फिर लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है? 

लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया गया है। 8 अप्रैल रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक प्रत्येक दिन रात्रिकालीन कर्फ्यू रहेगा। मौजूदा हालात को देखते हुए 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। नाइट कर्फ्यू के दौरान आवश्यक वस्तु को लाने ले जाने पर छूट रहेगी। लखनऊ डीएम अभिषेक प्रकाश ने जानकारी देते हुए बताया कि फल,सब्जी,दूध, एलपीजी, पेट्रोल - डीजल और दवा की सप्लाई जारी रहेगी। नाइट शिफ्ट के सरकारी/अर्ध सरकारी कार्मिक व आवश्यक वस्तुओं / सेवाओं में निजी क्षेत्र के कार्मिकों को छूट होगी। रेलवे स्टेशन ,बस स्टेशन,एयरपोर्ट पर आने जाने वाले लोग अपना टिकट दिखा कर आ जा सकेंगे। हर प्रकार की मालवाहक गाड़ियों के आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। नाइट कर्फ्यू सिर्फ लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में लागू होगा। 

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मंगलवार को राज्य सरकार ने नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है। नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा, हालांकि इस दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को नाइट कर्फ्यू से छूट रहेगी। दिल्ली सरकार ने फिलहाल लॉकडाउन लगाने की योजना से इनकार किया है। राजधानी में शादियों, श्राद्ध और अन्य समारोहों के लिए गाइडलाइन पहले ही जारी की जा चुकी है।

महाराष्ट्र में कोरोना से हालात बेहद की खराब हैं। महाराष्ट्र में हर दिन 50,000 के करीब कोरोना के नए मामले रिपोर्ट हो रहे हैं। देश के कुल नए मामलों के 50 फीसदी से ज्यादा अकेले महाराष्ट्र से आ रहे हैं। उद्धव सरकार ने राज्य में वीकेंड लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू का भी ऐलान किया है। हालांकि उद्धव सरकार पूर्ण लॉकडाउन के पक्ष में नहीं दिख रही है, लेकिन अगर कोरोना से हालात और बदतर हुए तो शायद राज्य सरकार के पास इसके अलावा और कोई विकल्प नहीं बचेगा। बता दें कि बुधवार को अकेले महाराष्ट्र में कोरोना के 59,907 नए मामले सामने आए। जबकि 30,296 लोग ठीक भी हुए। इसके साथ ही एक दिन में महाराष्ट्र में 322 लोगों की मौत हुई। महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के 31,73,261 मामले आए। राज्य में 5,01,559 सक्रिय मामले है। महाराष्ट्र में अब तक 56,652 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण के कारण हुई।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad