आज का उत्तम विचार ,संयुक्त परिवार - Ideal India News

Post Top Ad

आज का उत्तम विचार ,संयुक्त परिवार

Share This
#IIN
डा प्रमोद वाचस्पति जौनपुर



पहले लोग समय पर अपने घरों में आ जाते थे। समय पर सोना और सही समय पर सूर्य उदय होने से पूर्व उठकर नित्य क्रिया से निवृत्ति होकर अपने अपने कार्य में लग जाना घर परिवार के प्रत्येक व्यक्ति की दिनचर्या में शामिल था। वजह थी घर की बड़ी बुजुर्ग महिलाओं का घर परिवार में पूर्णरूप से नियंत्रण।
सभ्य समझदार महिलायें अपने संयुक्त परिवार को बड़े ही सूझबूझ के साथ नियंत्रण में रखती थी और अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह पूरी ईमानदारी निष्ठापूर्वक करती थी। घर परिवार की बड़ी बुजुर्ग महिलाओं से ही घर परिवार की अन्य महिलायें और लोग घर परिवार में कैसे रहा जाता हैं, कैसे एक दूसरे के साथ व्यवहार किया जाता हैं, दायित्व व कर्तव्यों का निर्वाह करना आदि जैसे ज्ञान अर्जित करते थे।
घर परिवार की समस्त महिलायें अपने से बड़ी बुजुर्ग महिला के दिशा निर्देश में एकजुट होकर घर परिवार के सभी लोगो का भोजन दोनो समय तैयार करती थी।
जैसे जैसे महिलाओं ने अपने घर परिवार के दायित्व कर्तव्य जिम्मेदारी का निर्वाह करने में लापरवाही आरम्भ किया संयुक्त मजबूत परिवार बिखर कर एकाकी कमजोर परिवार का रूप धारण कर लिया ।
जिसका वर्तमान समय में देखने को मिलता हैं कि घर परिवार में संस्कार नाम की कोई चीज ही नही रह गयी हैं, एक दूसरे का सम्मान करना लोग भूल गये हैं ।
जब तक एक दूसरे से स्वार्थ हैं तब तक एक दूसरे से अच्छे सम्बन्ध हैं।
वर्तमान स्थिति परिस्थिति को देखते हुये संयुक्त मजबूत परिवार की आश हर कोई कर रहा हैं।
संयुक्त मजबूत परिवार के लिये महिलाओं को ही पहल करना होगा ।
वर्तमान समय की स्थिति परिस्थिति को देखते हुये नयी नवेली बहुओं को भी घर परिवार के हित में अपना सहयोग करना चाहिये ।
वे स्वयं उम्र ढलने पर संयुक्त मजबूत परिवार की कामना करेगी।
इससे अच्छा हैं सभी घर परिवार की महिलायें सूझबूझ से संयम पूर्वक घर परिवार के हित में अपना योगदान करे।
छोटे मोटे परिवारिक विवादों से बचे और घर परिवार के प्रत्येक व्यक्ति चाहे महिला हो या पुरुष हो सब एक दूसरे का सम्मान करे,अपने मर्यादा में रहे ।
हर कोई संयुक्त परिवार की कामना वर्तमान समय कर रहा हैं । 
क्योकि घर परिवार की स्थिति परिस्थिति हर सभ्य समझदार महिलाओं और पुरुषों को परेशान कर रहा हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad