ग्रामीण पृष्ठभूमि का उभरता सितारा:यश उपाध्याय - Ideal India News

Post Top Ad

ग्रामीण पृष्ठभूमि का उभरता सितारा:यश उपाध्याय

Share This
#IIN






प्रतिभाएं देश काल और परिस्थितियों की मोहताज नहीं होतीं । हमारे देश में कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक  न जाने ऐसे कितने उदाहरण हैं जो दूसरों के लिए मिशाल हैं। एक ऐसे ही उदाहरण जौनपुर जनपद के शाहगंज तहसील अन्तर्गत कोटिया गांव में जन्मे यश उपाध्याय हैं जो डांस और ऐक्टिंग की दुनिया में नाम कमा रहे हैं। महज़ इक्कीस साल के यश बचपन से ही डांस और ऐक्टिंग में रुचि रखते हैं।इंटर कॉलेज समोधपुर से अध्ययन कर चुके यश बताते हैं कि इनके पिता बृजेश उपाध्याय उर्फ बबलू जो कि गांव के प्रधान भी रह चुके हैं एक किसान हैं और उन्हीं की प्रेरणा से वे वाराणसी और मुम्बई जाकर डांस और ऐक्टिंग सीख कर इस क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बनाना चाहते हैं।यश टिक टाक ऐप पर भी काफी लोकप्रिय रहे हैं। मुंबई प्रवास के दौरान ही यश की भेंट भोजपुरी के सुपरस्टार व लोकप्रिय कलाकार मनोज सिंह टाइगर (बतासा चाचा) से होती है ।यश बताते हैं कि वे टाइगर जी से बहुत प्रभावित हैं और उनके साथ ही यश को दो शार्ट फिल्मों में काम करने का मौका भी मिल चुका है। इतने बड़े सुपरस्टार के साथ गधा मर गया   और फिल्मोनिया इन दिनों कामेडी शार्ट फिल्मों में काम करके यश बहुत खुश हैं। मुम्बई के मशहूर पंचम रंग द थियेटर ऑफ टुडे से ऐक्टिंग का कोर्स कर चुके यश का कहना है कि उनकी इच्छा एक बहुत बड़ा अभिनेता बनने की है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad