बी एच यू बंद होते ही छात्रों का प्रदर्शन शुरू, छात्रावास और लाइब्रेरी खोलने की मांग को लेकर प्रदर्शन - Ideal India News

Post Top Ad

बी एच यू बंद होते ही छात्रों का प्रदर्शन शुरू, छात्रावास और लाइब्रेरी खोलने की मांग को लेकर प्रदर्शन

Share This
#IIN


Dr.U.S. Bhagat
वाराणसी 
 बीएचयू में कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से एक ओर बीएचयू को पूरी तरह से छात्रों के लिए बंद करके ऑनलाइन परीक्षा कराने की तैयारी है तो दूसरी ओर मंगलवार को सेंट्रल ऑफिस पर छात्रों ने ताला जड़ दिया। सोमवार को ही पत्र जारी कर बीएचयू प्रशासन ने कोरोना वायरस संक्रमण के चलते विवि को बंद करने के साथ ही हास्‍टल को भी खाली करके छात्रों को घर जाने की अपील की गई थी। हालांकि, दोपहर में छात्र अधिष्ठाता प्रो. एम के सिंह और चीफ प्रॉक्टर प्रो. आनंद चौधरी के आश्वासन पर छात्र सेंट्रल लाइब्रेरी से हट गए। इसके बाद सभी छात्र सेंट्रल ऑफिस से विश्वनाथ मंदिर की ओर निकल गए तो मौके पर शांति व्‍यवस्‍था कायम हो सकी। साथ ही बीएचयू में आनलाइन कक्षाओं के दोबारा शुरू किए जाने की सूचना के बीच आफलाइन कक्षाओं को पूरी तरह बंद करने की जानकारी भी दी गई थी। कुछ दिनों पूर्व पूरी तरह विवि को खोलने की मांग को लेकर छात्र आंदोलन कर चुके हैं। ऐसे में कोरोना वायरस के दूसरे लहर की आशंका के बीच विवि प्रशासन कोई खतरा मोल नहीं लेना चाह‍ता। अब होली की वजह से घर जाने वाले छात्रों के वापस लौटने की संभावना कम ही है। क्‍योंकि विवि प्रशासन ने घर से ही ऑनलाइन परीक्षा कराने की संभावनाओं को भी जाहिर कर दिया है। सेंट्रल लाइब्रेरी पहुंचे छात्रों ने तालाबंदी करने के साथ ही अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी भी की। इस दौरान अधिकारियों और कर्मचारियों ने उनको समझाने की कोशिश तो छात्र अपनी मांगों को लेकर अड़ गए। बीएचयू के छात्रों ने इस बाबत मांग की है कि लाइब्रेरी और साइबर लाइब्रेरी को कोरोना की वजह से बंद न किया जाए। वहीं हॉस्टल को बंद करने को लेकर भी छात्रों में आक्रोश है, छात्र मांग कर रहे हैं कि वह छात्रावास में ही रहेंगे, इन्हें निकाला न जाये। विवि प्रशासन की ओर से फैसला लिए जाने के बाद परिसर में विरोध प्रदर्शन भी शुरू हो गया है। मंगलवार की सुबह से ही बीएचयू के फैसले के खिलाफ कैंपस में जगह-जगह होली मिलन समारोह भी शुरू हो गया है। दोपहर में वाणिज्य संकाय के अंदर छात्र होली खेलकर विवि प्रशासन के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad