जमीन विवाद में गला घोंटकर मासूम की हत्या, चचेरा चाचा गिरफ्तार - Ideal India News

Post Top Ad

जमीन विवाद में गला घोंटकर मासूम की हत्या, चचेरा चाचा गिरफ्तार

Share This
#IIN

श्रवण सेठी
 मेदिनीनगर (झारखंड) 

जमीन विवाद में गला घोंटकर मासूम की हत्या, चचेरा चाचा गिरफ्तार


मेदिनीनगर (पलामू) : जमीनी विवाद में तीन वर्षीय मासूम बच्चे की गला घोंटकर हत्या कर दी गई। मामला पलामू के मेदिनीनगर सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत रजवाडीह की है। मृतक बच्चे की पहचान रजवाडीह निवासी संतोष चंद्रवंशी के छोटे पुत्र तीन वर्षीय संकेत कुमार के रूप में की गई। पुलिस ने संकेत का शव मंगलवार की रात उसके घर के समीप स्थित विद्यालय के पीछे से बरामद किया है। मृतक मासूम की मां पिकी देवी के बयान पर पुलिस ने संकेत के चचेरे चाचा दीपक कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। पलामू के पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार ने बुधवार को अपने कार्यालय कक्ष में संवाददाताओं से बातचीत की। बताया कि आरोपित दीपक ने अपने ही गंजी को फाड़कर मासूम का गला घोंट दिया। मामला पूरी तरह से जमीन विवाद का है। कई दिन पहले भाइयों में बंटवारा हुआ था। इससे आरोपित दीपक असंतुष्ट था। पास से ही फोरलेन सड़क गुजरने वाली है। इसमें मुआवजा की राशि मिलने वाली है। इसी को लेकर वह बंटवारे से असंतुष्ट था। उन्होंने बताया कि आरोपित ने बच्चे को समोसा खिलाने के बहाने होटल पर ले गया। मंगलवार दोपहर के 1.30 बजे के बाद वह अपने बनियान से गला घोंट उसकी हत्या कर दी। इसके बाद शव को पत्तों से छुपा दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि संकेत मंगलवार से लापता था। स्वजनों ने इसकी जानकारी सदर थाना पुलिस को दी थी। मामले में शक के आधार पर सदर थाना पुलिस ने कांड संख्या 10/2021 दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया। संदेह के आधार पर संकेत के चाचा दीपक को हिरासत में लिया गया। पूछताछ में आरोपित की निशानदेही पर शव को रजवाडीह स्थित कन्या प्राथमिक विद्यालय के पीछे झाड़ी के पास से बरामद किया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर बुधवार को मेदिनी राय मेडिकल कालेज अस्पताल में अंत्यपरीक्षण कराया। इसके बाद शव स्वजनों को सौंप दिया।

अप्रिय घटना से बचने को कैंप करती रही पुलिस

रजवाडीह गांव में किसी तरह की अप्रिय घटना न हो इसे लेकर पुलिस मंगलवार की रात भर गांव में कैंप करती रही। अनुसंधान व छापेमारी दल में सहायक पुलिस अधीक्षक के. विजय शंकर, पुलिस इंस्पेक्टर अभय कुमार सिन्हा, सदर थाना प्रभारी कमलेश कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक शमशेर बहादुर सिंह, उपेंद्र कुमार दास, एएसआइ विक्रम सवैया, सुरेंद्र सिंह, समाएल अहमद समेत पुलिस जवान अशोक कुमार पासवान, मो. शाहिद फजल, प्रदीप रजक, अंजनी रजक, अर्जुन राम, दिनेश तिवारी आदि शामिल थे।

आठ घंटे बाद मिला शव, स्वजनों ने किया सड़क जाम

रजवाडीह से मंगलवार की दोपहर 11 बजे के करीब दीपक अपने रिश्ते के भतीजा संकेत को अपने साथ ले गया। उसे समोसा खिलाया। हैंडपंप पर पानी भी पिलाया। फिर उसकी हत्या अपने बनियान से गला घोंटकर कर दी। देर शाम तक बच्चा घर नहीं पहुंचा तो उसके स्वजन उसे ढूंढ़ने लगे। स्वजनों को पता चला कि बच्चे को दीपक के साथ देखा गया था। दीपक से बच्चे के बारे में पूछा गया तो उसने सही जानकारी नहीं दी। बच्चे की हत्या से पूरे गांव में आक्रोश है। घटना को लेकर मंगलवर की रात ग्रामीणों ने मेदिनीनगर-पांकी सड़क जाम कर दिया था। सदर एसडीओ अजय सिंह बड़ाईक के समझाने के बाद स्वजनों व आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम हटाया था।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad