कल है होलिका दहन - Ideal India News

Post Top Ad

कल है होलिका दहन

Share This
#IIN



कल होलिकादहन है। कल के दिन होलिका दहन किया जाता है। इस दिन भक्त प्रहलाद की बुआ होलिका ने उनके पिता हिरण्याकश्यप के साथ मिलकर उन्हें अग्नि में जलाने का प्रयास किया था। लेकिन विष्णु जी ने अपने भक्त को जलने से बचाया था और उस अग्नि में होलिका जल के भस्म हो गई थीं। ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास के अनुसार, होलिका दहन के दिन लोग अगर अपनी राशि के अनुसार उपाय करें तो शुभ होता है। 
मेष- सर्वश्रेष्ठ काम करने में सक्षम रहेंगे। लेकिन मनचाहा फल प्राप्त नहीं हो पाएगा। दूसरों को अपनी बात समझाने में परेशानी आएगी। व्यर्थ की बातों में उलझ सकते हैं। इससे बचें।

क्या करें- होलिका पर बिल्व पत्र की माला अर्पण करें।

वृषभ- धन की कमी हो सकती है। लेकिन कुछ दिन बाद समय में सुधार होने लगेगा। कर्ज से मुक्ति मिलेगी। माता-पिता से स्नेह और सहयोग प्राप्त होगा। काम की अधिकता भी रहेगी और यात्रा का योग भी है।

क्या करें- होलिका पर लाल पुष्प अर्पण करें।

मिथुन- आपके लिए समय अच्छा है। असंभव से दिखने वाले काम भी पूरे हो सकते हैं। मंगल-गुरु की दृष्टि होने से कोई विशेष फर्क नहीं पड़ेगा। संतान पक्ष से भी लाभ होगा।

क्या करें- होलिका पर वस्त्र दान करें।

कर्क- इस राशि पर शनि की दृष्टि बनी हुई है। द्वितीय चंद्र आर्थिक आधार को मजबूत बनाकर रखें। आत्मविश्वास रहेगा, लेकिन मनमाफिक सफलता मिलने में संदेह रहेगा।

क्या करें- होलिका पर तेल का दीपक लगाएं एंव प्रसाद चढ़ाएं।

सिंह- मन कुछ उदास रह सकता है,। लेकिन इससे आर्थिक मामलों में कोई परेशानी नहीं आएगी। लक्ष्य प्राप्ति भी आसानी से होगी। परेशानियों का अंत होगा।

क्या करें- होलिका पर आंकड़े का पुष्प अर्पण करें और प्रसाद चढ़ाएं।

कन्या- इस राशि के लिए चंद्र नुकसान की वृद्धि कर सकता है। कुछ दिन बाद स्थिति सामान्य होने लगेगी और कार्य में तेजी आएगी। विवादों से दूर रहने की सलाह है।

क्या करें- होलिका पर धूप अर्पित करें।

तुला- राशि स्वामी शुक्र की प्रबल दृष्टि प्राप्त नहीं हो रही है। फिर भी ये राशि परेशानियों से लड़ने की शक्ति प्राप्त कर रही है। आत्मबल बढ़ा हुआ रहेगा। मेहनत सफल हो सकती है।

क्या करें- होलिका के नीचे जल चढ़ाएं और घी का दीपक जलाएं।

वृश्चिक- चंद्र का गोचर पूर्णत अनुकूल बना हुआ है, लेकिन कुछ दिनों बाद विशेष सतर्कता रखनी होगी। धन प्राप्त हो सकता है। कोई बड़ा काम बन सकता है।

क्या करें- होलिका पर लाल गुलाल चढ़ाएं।

धनु- मंगल-गुरु और केतु का गोचर है। कार्य का विस्तार होगा और जिम्मेदारियों में वृद्धि होगी। जीवन व्यवस्थित चलता रहेगा। विवादों से बचने का प्रयास करें।

क्या करें- होलिका के पास बैठकर श्रीसूक्त का पाठ करें।

मकर- राशि स्वामी शनि का गोचर है एवं यह समय सभी प्रकार से सुख पंहुचाने वाला बनेगा। कार्यों में सफलता मिलेगी और क्रेडिट भी प्राप्त होगा। योजनाएं सफल होंगी।

क्या करें- होलिका पर हरा गुलाल चढ़ाएं।

कुंभ- कोई बड़ा आर्थिक लाभ प्राप्त हो सकता है, लेकिन कुछ उदासी भी रह सकती है। परिवार में वर्चस्व बना रहेगा। योजनाएं सफल होंगी।

क्या करें- होलिका पर दूर्वा और लाल फूल चढ़ाएं।

मीन- ये समय संभलकर रहने का और विवादों से दूर रहने का है। कई बार विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। कुछ दिन बाद समय पक्ष का रहेगा।

क्या करें- होलिका पर पीला गुलाल चढ़ाएं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad