गैंगस्टर रवि पुजारी को मुंबई पुलिस ने धमकी मामले में रिमांड पर लिया - Ideal India News

Post Top Ad

गैंगस्टर रवि पुजारी को मुंबई पुलिस ने धमकी मामले में रिमांड पर लिया

Share This
#IIN


Sanjay Chaturvedi and Shri Dhar Tiwari 

मुंबई

 मुंबई की एक अदालत ने गैंगस्टर रवि पुजारी को 20 मार्च तक पुलिस हिरासत में सौंप दिया। पुलिस ने गैंगस्टर को 2017 में कांदिवली इलाके में एक प्रॉपर्टी डीलर को धमकी देने के मामले में रिमांड पर लिया है। पुजारी को 22 फरवरी को बेंगलुरु से मुंबई लाया गया था। विले पार्ले में 2016 में हुई एक फाय¨रग मामले में उसे बेंगलुरु से लाया गया। इस मामले में पुलिस हिरासत समाप्त हो जाने के बाद मकोका कोर्ट ने पुजारी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था, लेकिन पुलिस ने कहा कि उसे 2017 के कांदिवली मामले में हिरासत में लेकर पूछताछ करने की जरूरत है। जरूरी अनुमति लेने के बाद पुलिस ने गैंगस्टर को दूसरे न्यायाधीश की कोर्ट में पेश कर 2017 के मामले में 20 दिनों की हिरासत मांगी थी।

गैंगस्टर रवि पुजारी, जिसके खिलाफ मुंबई में लगभग 80 मामले दर्ज हैं, उसे मंगलवार सुबह ही मुंबई लाया गया है। पिछले हफ्ते, बेंगलुरु की एक अदालत ने एक साल की लंबी लड़ाई के बाद मुंबई पुलिस को पुजारी की हिरासत दी थी। संयुक्त आयुक्त (अपराध शाखा), महाराष्ट्र के मिलिंद भरम्बे ने बताया, "हम एक साल से पुजारी की हिरासत पाने की कोशिश कर रहे थे और आखिरकार 2016 की गज़ाली होटल फायरिंग मामले में सफलता मिली।" 59 वर्षीय गैंगस्टर रवि पुजारी फरवरी 2020 में कर्नाटक पुलिस की हिरासत में था। उस पर एक दर्जन से अधिक हत्याओं का आरोप लगाया गया है, वह अचल संपत्ति, फिल्म हस्तियों और व्यवसायियों को धमकी और उनसे जबरन वसूली करता है। अकेले कर्नाटक में उनके खिलाफ लगभग 100 मामले दर्ज हैं। पुजारी 1994 से फरार था। पुलिस का कहना है कि वह सेनेगल से पहले मुंबई से नेपाल, बैंकॉक, युगांडा और बुर्किना फासो में था। छोटा पुजारी का नाम छोटा राजन के नाम पर एंटनी फर्नांडीस रखा गया था और बाद में उसने इसे बदलकर टोनी फर्नांडीस और फिर रॉकी फर्नांडीस कर दिया। वह कथित तौर पर मुंबई जाने से पहले कर्नाटक में कई अपराधों में शामिल था।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad