इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही पाचन को दुरुस्त रखते हैं पपीते के पत्ते - Ideal India News

Post Top Ad

इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही पाचन को दुरुस्त रखते हैं पपीते के पत्ते

Share This
#IIN



DR RJ GUPTA

पपीता तो हम सभी खाते हैं और उसके फायदों के बारे में भी जानते ही है। लेकिन आपको पता है कि पतीते की तरह ही पतीते के पत्ते भी सेहत के लिए फायदेमंद है। औषधीय गुणों से भरपूर पपीते के पत्तों का इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों का उपचार करने में किया जाता है। गर्मी के मौसम में हम पपीता खाना ज्यादा पसंद करते हैं और इस मौसम में इसके सेहत के लिए कई तरह के फायदे भी है। पपीते के पत्ते डेंगू और चिकनगुनिया के रोगियों के लिए फायदेमंद है। ये ना सिर्फ इम्यूनिटी बढ़ाते हैं, बल्कि महिलाओं को होने वाली कई समस्याओं का भी उपचार करते हैं। पाचन को दुरुस्त करते हैं पपीते के पत्ते। आइए जानते हैं कि पपीते के पत्तों का जूस पीने से और कौन-कौन से फायदे होते हैं।

पीरियड्स में होने वाले दर्द को दूर करते है पपीते के पत्ते:

अक्सर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान पेट में दर्द की शिकायत रहती है। महिलाओं को इस दर्द को दूर करने के लिए चाहिए कि पपीते के पत्तों को इमली, नमक और एक गिलास पानी के साथ मिलाकर काढ़ा बनालें और इसे ठंडा कर के इसका सेवन करें। आपको इस दर्द से जल्द राहत मिलेगी।

कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते हैं:

पपीते के पत्तों में कैंसर रोधी गुण मौजूद होते हैं, जो इम्यूनिटी बूस्ट करने में बेहद मददगार है। सर्वाइकल और ब्रेस्ट कैंसर जैसे रोगों में ये काफी असरदार होते है।

ब्लड प्लेटलेट्स को बढ़ाता है:

पपीते का रस ब्‍लड प्‍लेटलेट्स को बढ़ाने में मददगार है। रोजाना इन पत्तों का दो चम्मच जूस निकालकर तीन महीनों तक सेवन करें।

इंफेक्शन से महफूज़ रखता है:

पपीते के पत्ते बैक्टीरिया और इंफेक्शन्स को रोकने में भी लाभकारी होते है। यह खून में वाइट ब्लड सेल्स और प्लेटलेट्स को बढ़ाने में भी मदद करते है।

डेंगू का है इलाज:

डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों में पपीते के पत्ते का जूस काफी असरदार होता है। यह बुखार की वजह से गिरती प्लेटलेट्स को बढ़ाने और शरीर में कमजोरी को बढ़ने से रोकते है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad