इफको प्रबधन के खिलाफ दर्ज हो गैर इरादतन हत्या का मुकदमा*- *डॉ कमल उसरी* - Ideal India News

Post Top Ad

इफको प्रबधन के खिलाफ दर्ज हो गैर इरादतन हत्या का मुकदमा*- *डॉ कमल उसरी*

Share This
#IIN
आतपी मिश्रा
प्रयाग राज ,यमुनापार्

*इफको प्रबधन के खिलाफ दर्ज हो गैर इरादतन हत्या का मुकदमा*- *डॉ कमल उसरी*

 *यह दुर्घटना नही ? इफको प्रबधन द्वारा मजदूरों की हत्या है*, - *देवानंद*


आज इफको कारखाने में हुई घटना पर रोष व्यक्त करते हुए ऐक्टू राष्ट्रीय सचिव डॉ कमल उसरी ने कहा हम लोग आज सुबह से ही शहीदे आज़म भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरू की शहादत दिवस मनाने की तैयार कर रहे थे कि अचानक दोपहर में भोजनावकाश के समय कारखाने में कार्यरत मजदूर साथियों द्वारा यह खबर आई की अंदर ब्यायलर फट गया है कई मजदूरों की मौत हो गई है और कई घायल है,हम सब इफको प्रसाशन से यह जानकारी करते रहे कि वर्तमान स्थिति क्या है ? प्रबधन किसी तरह की जानकारी देने से मुँह छुपाता  रहा है,
डॉ कमल उसरी ने कहा यह कोई  पहली घटना नही है, इससे पहले भी अमोनिया गैस लिक हो चुकी है जिसमें कई मजदूरों अधिकारियों की मौत हो चुकी है, अभी कुछ महीने पहले एक मजदूर जो बीमार था उसे अस्पताल भेजनें के बजाय काम पर भेज दिया गया और काम के दौरान उसकी मौत हो गई ,बड़े संघर्ष के बाद पहली बार इफको प्रबधन के एफआईआर दर्ज हुई, इफको प्रबधन के पास पुरस्कार बाटने के लिए, धार्मिक स्थलों के निर्माण के लिए चंदा देने का,अधिकारियों के ऐशो आराम के लिए बजट है, लेकिन जिन मजदूरों कर्मचारियों के हाड़ तोड़ मेहनत से, यहां तक कि लगातार जान गवाने से एशिया का सबसे बड़ा सहकारी संस्था यह इफको फ़ुलपुर बना हुआ है उन मजदूरों कर्मचारियों की जीवन रक्षा के लिए बजट नही है, प्रबधन के लोगो को जरा भी इस बात का चिन्ता नही है,शर्म नहीं है कि तमाम सूख सुविधाओं को तो आप पुनः इकट्ठा कर लेगे लेकिन जिन मजदूरों की मौत हो जा रही है उन परिवारों को क्या जबाब दोगो ?,
जिस कारखाने का निर्माण फ़ुलपुर क्षेत्र को खुशहाल बनाने के लिए किया गया था अब वह स्थानीय लोगों के लिए प्रबंधन की बदनीयती से अभिशाप बनता जा  रहा है, आये दिन अमोनिया गैस लीक होती है, आस पास के क्षेत्र का भूमिजल स्तर लगातार नीचे जा है, इफको से निकलने वाले कचड़े से प्रदूषण बढ़ रहा है, किसानों की खेती बर्बाद हो रही है, हम शासन प्रशासन से से मांग करते हैं इफको प्रबधन के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज हो,, मृतक आश्रित को स्थाई नौकरी दी जाय, पचास लाख रुपए मुआवजा दिया जाय,
पुनः ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो इसकी गांरटी की जाय, साशन प्रशासन उच्च स्तरीय जाँच समिति बनाकर जांच करे दोषी अधिकारियों को बर्खास्त करें, ठेकेदार का लाइसेंस निरस्त करें,
इफको फ़ुलपुर ठेका मजदूर संघ सम्बद्ध ऐक्टू मंत्री देवानंद ने कहा यह प्रबंधन द्वारा मजदूरों की सीधे सीधे हत्या है, ठेका मजदूरों में प्रबधन आपसी एकता बनने नही देता है जिससे मजदूरों का शोषण होता है, दुर्घटना घटने पर प्रबंधन मनमानी कर पाने में सक्षम हो जाता है, लेकिन हम लोग  लगातार रातदिन एकता बनाने की कोशिश में लगे रहते हैं, हमे पूरा यकीन है एक दिन हम एकता के बल पर प्रबंधन के शोषण को समाप्त करने में जरूर कामयाब होंगे,
सभी इफको ठेका मजदूरों ने शाम पांच बजे मृतक मजदूरों को याद करते हुए दो मिनट का मौन रख कर श्रंद्धाजलि अर्पित की,
प्रशासन, श्रदांजलि सभा डॉ कमल उसरी, देवानंद, जय प्रकाश मनोज, त्रिलोकी पटेल, द्वारिका,इत्यादि शामिल रहे,

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad