लखनऊ में जंगल में बड़ी मात्रा में फेंकी गईं सरकारी दवाएं - Ideal India News

Post Top Ad

लखनऊ में जंगल में बड़ी मात्रा में फेंकी गईं सरकारी दवाएं

Share This
#IIN


Hariom Singh Swaraj  
लखनऊ

 दुबग्गा में सब्जीमंडी स्थित जंगल की नालियों व आसपास बड़ी मात्रा में फेंकी गई नॉन एक्सपायरी सरकारी दवाओं के मिलने से अफरातफरी मच गई। शुक्रवार को पास से गुजरते राहगीरों ने जब इसे देखा और दवाओं के पैकेट उठाए तो सारे पैकेट नए थे और अच्छी कंडीशन में दवाएं पैक पड़ी थी। एक्सपायरी देखने पर दिसंबर 2021 से 2022 तक की तारीख लिखी गई थी। कई दवाओं के ऊपर फॉर गवर्नमेंट सप्लाई, नॉट फॉर सेल भी लिखा गया है। इससे साफ हो रहा है कि दवाएं किसी सरकारी अस्पताल से लाकर यहां फेंकी गई हैं। एक ओर जहां मरीज सरकारी अस्पतालों में दवाओं से वंचित हैं, वहीं दूसरी तरफ इतनी बड़ी मात्रा में नॉन एक्सपायरी दवाएं फेंके जाने से स्वास्थ्य विभाग पर सवाल उठना लाजमी है।

शुक्रवार को सुबह नवीन फल व सब्जी मंडी के पीछे जॉगर्स पार्क जाने वाली रोड पर स्थित जंगल में बड़ी मात्रा में सरकारी दवा के ढेर देख कर राहगीर रुकने लगे। फेंकी गई दवाओं में कोरोना के खिलाफ मजबूती से जंग लडऩे वाली मशहूर दवा आइवरमेक्टिन भी शामिल है। कोरोना के इलाज व बचाव में इस्तेमाल होने वाली यह दवा बेहद कारगर होने के साथ ही साथ महंगी भी है। एक वक्त लखनऊ के दवा बाजार में भारी मांग होने के चलते यह दवा गायब हो चुकी थी। इतनी बड़ी मात्रा में जंगलों में दवाएं फेंके जाने का मकसद अभी तक पता नहीं चल पाया है, लेकिन इसके पीछे कोई बड़ा खेल होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। राहगीरों व आस पास के लोगों ने बताया कि गुरुवार को दवा यहाँ नही पड़ी थी। यह काम रात के अंधेरे में किया गया है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad