पूरे महाराष्ट्र में सख्त लॉकडाउन लगाने की चेतावनी, देश के 4 जिलों में पूर्ण लॉकडाउन - Ideal India News

Post Top Ad

पूरे महाराष्ट्र में सख्त लॉकडाउन लगाने की चेतावनी, देश के 4 जिलों में पूर्ण लॉकडाउन

Share This
#IIN


Sanjay Chaturvedi and Shri Dhar Tiwari 


मुंबई
 महाराष्ट्र में एक बार फिर से कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं। इससे देश में एक बार फिर से कोरोना संकट गहराता जा रहा है। महाराष्ट्र में बीते एक दिन में करीब 16 हजार नए कोरोना मामले सामने आए जिससे देश में हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं। इस बीच, महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार ने पूरे महाराष्ट्र में सख्त लॉकडाउन को लेकर आखिरी चेतावनी दी है सरकार ने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि राज्य सरकार को लॉकडाउन जैसे कठोर उपायों को लागू करने के लिए मजबूर नहीं करें।

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण महाराष्ट्र के नागपुर, अकोला, परभनी और औरंगाबाद समेत कई इलाकों में लॉकडाउन लागू है। अगर कोरोना के मामले ऐसे ही बढ़ते रहे और लापरवाहियां सामने आती रहीं तो उद्धव सरकार महाराष्ट्र के अन्य जगहों पर भी लॉकडाउन का ऐलान कर सकती है। 

यह लॉकडाउन सोमवार 15 मार्च को सुबह आठ बजे तक जारी रहेगा। महाराष्ट्र के परभणी जिले में शुक्रवार रात 12 बजे से 15 मार्च सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया। वहीं पुणे में रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने नागपुर में 15 मार्च से 21 मार्च तक लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया था। 

इसके अलावा देश की 9 जगहों पर नाइट कर्फ्यू भी लगाया जा चुका है। पंजाब के मोहाली, जालंधर, एसबीएस नगर (नवांशहर), होशियारपुर, कपूरथला, पटियाला, फतेहगढ़ साहिब और लुधियाना में प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। इसके अलावा महाराष्ट्र के पुणे में रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है।

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इनमें सर्वाधिक मामले  महाराष्ट्र में सामने आए हैं। महाराष्ट्र और केरल के साथ ही अब पंजाब, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु में भी मामले बढ़ने लगे हैं। महाराष्ट्र में तो 16 हजार के करीब नए मामले मिले हैं। महाराष्ट्र में शनिवार को कोरोना वायरस के 15,800 से ज्यादा नये मामले दर्ज किये गए जिससे मामलों की संख्या बढ़कर 22,97,793 पर पहुंच गई जबकि इस महामारी से 88 और मरीजों की मौत से यहां कुल मौत का आंकड़ा 52,811 हो गया है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad