25 बीघे गेहूं की फसल राख - Ideal India News

Post Top Ad

25 बीघे गेहूं की फसल राख

Share This
#IIN


Rajan Kumar Singh and Pramod Kumar Tiwari

रानीगंज थाना क्षेत्र के कहला गांव में मंगलवार को दोपहर में विद्युत तारों के शॉर्ट-सर्किट से निकली चिगारी किसानों के अरमानों पर कहर बनकर टूटी। देखते ही देखते आग ने इस कदर विकराल रूप धारण किया कि दूसरे गांव में भी बढ़ने लगी। दर्जनभर किसानों के 25 बीघे से अधिक गेहूं की फसल जलकर खाक हो गई।

फतनपुर थाना क्षेत्र के नरायनपुर कला व भुजैनी गांव के मध्य रानीगंज थाना क्षेत्र के कहला गांव के कई किसानों की गेहूं की खड़ी फसल में दोपहर करीब दो बजे अचानक आग लग गई। सूचना पर फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंची। कहला गांव में गया प्रसाद पटेल के खेत के पास पुआल का ढेर रखा था, जिसके बगल से बिजली की लाइन गई थी। शार्ट सर्किट के कारण उसमें चिनगारी निकलने से पुआल की ढेर में आग लग गई।आग की चिगारी बड़ी नहर पार करके भुजैनी गांव में चली गई। वहां पर दर्जनों किसानों के गेहूं की फसल पककर तैयार हो गई थी। वह आग की चपेट में आ गई। आग की लपटें नरायनपुर कला गांव की सीमा तक पहुंच गई थी। सैकड़ों ग्रामीणों ने जुटकर दो घंटे की कड़ी मेहनत के बाद आग पर काबू पाया। कहला गांव निवासी केदारनाथ वीरेंद्र, दयाराम झुरई, कल्लू , पप्पू, देवतादीन, हरिश्चंद्र, राममिलन, शिवकुमार, राजकुमार पटेल, मोनू यादव बाचा यादव, विकास यादव शिवकुमार, लालबहादुर दयाराम सहित दर्जनभर से अधिक किसानों की फसलों का नुकसान हुआ है। रानीगंज थाना क्षेत्र के सरायसेतराय गांव में एक पागल महिला ने जीतेंद्र सरोज के गेहूं की फसल में आग लगा दी, जिससे काफी फसल जलकर राख हो गई। मुआर अधारगंज गांव में बच्चों ने पटाखे फोड़े तो मो हारुन के छप्पर मे आग लग गई। मंगलवार को दिन भर फायर ब्रिगेड की गाड़ी आगजनी की सूचना पर क्षेत्र में दौड़ती रही।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad