सन्त पर हुये जानलेवा हमले से जिले भर के साधु-सन्तो में भारी आक्रोश* - Ideal India News

Post Top Ad

सन्त पर हुये जानलेवा हमले से जिले भर के साधु-सन्तो में भारी आक्रोश*

Share This
#IIN
*सन्त पर हुये जानलेवा हमले से जिले भर के साधु-सन्तो में भारी आक्रोश*
*संतो की अगुवाई में में जिलाधिकारी को दिया गया ज्ञापन*



सीतापुर- 
खैराबाद उदासीन आश्रम के महन्त श्री बजरंग मुनि के ऊपर हुये जानलेवा हमले पर जिलाधिकारी को दिया गया ज्ञापन ।
नैमिषारण्य के चौरासी कोसीय परिक्रमा के सचिव- खाकी दास जी महाराज, बजरंग दल प्रान्त संगठन मंत्री- विमल जी, जिलाध्यक्ष-  विपुल सिंह जी खैराबाद प्रखण्ड संयोजक- सुमित मिश्रा व अन्य गड़मान्य साधु संतों श्री राम जय राम जय जय राम का उदघोष करते हुए पहुंचे जिलाधिकारी आवास,
महन्त बजरंग मुनि के ऊपर हुये जानलेवा हमले के प्रकरण पर जिलाधिकारी को सौंपा  ज्ञापन ।
महन्त जी ने जिलाधिकारी से अपराधियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाये और लापरवाही बरतने वालो पर शक्त कार्यवाही करने की बात कही ।
  यहां पर यह बताते चलें कि मंगलवार की दोपहर में उदासीन संप्रदाय की बड़ी संगत खैराबाद मोहल्ले के कमाल सराय में स्थित है उसके महंत बजरंग मुनि महाराज पर पूर्व से चले आ रहे विवाद में घातक हमला हुआ था, जिसमें दोनों पक्षों के 4 लोग घायल हुए थे इस हमले में महंत बजरंग मुनि महाराज का एक अंगरक्षक भी घायल हुआ था ।जिन्हें प्राथमिक चिकित्सा के बाद लखनऊ के लिए रेफर कर दिया गया था जहां पर अब उनकी हालत खतरे के बाहर बताई जा रही है । इस विवाद के पश्चात जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन चौकन्ना हो गया और उसने सावधानी के तौर पर खैराबाद में स्थान स्थान पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया था जोकि आज भी जारी है फिलहाल कस्बे में शांति पूर्ण माहौल बना हुआ है ।
  जिला अधिकारी विशाल भारद्वाज एवं पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह लगातार दो दिनों तक खैराबाद कस्बे में कैंप कर स्थिति का जायजा लेते रहे । जिला प्रशासन ने सावधानी के तौर पर बाहर से खैराबाद आने वाले संतों पर रोक लगा रखी है जिससे खैराबाद में किसी भी प्रकार का ना तो तनाव बढ़ने पाए ना ही माहौल बिगड़ने पाए और जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन ने काफी हद तक इस पर काबू पा लिया है । घटना वाले दिन मंगलवार की शाम को साध्वी प्राची लखीमपुर होते हुए सीतापुर से खैराबाद में प्रवेश करना चाहती थी परंतु जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन ने उन्हें नैपालापुर चौराहे पर ही रोक लिया काफी मान मनोबल के बाद साध्वी प्राची खैराबाद जाने का अपना कार्यक्रम स्थगित कर लखनऊ के लिए रवाना हो गई ।
 इस घटना के बाद खैराबाद के हिंदू मुस्लिम दोनों पक्षों ने समझदारी का परिचय देते हुए कस्बे में शांति बनाए रखा जिसकी संपूर्ण जिले में भूरी भूरी प्रशंसा हो रही है ।

 शरद कपूर  सीतापुर

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad