उद्घाटन के दौरान पहुंचा पुलिस-प्रशासन - Ideal India News

Post Top Ad

उद्घाटन के दौरान पहुंचा पुलिस-प्रशासन

Share This
#IIN


Girish Chandra Yadav
मऊ 
 जिला अस्पताल के सामने स्थित गुप्ता डाइग्नोस्टिक सेंटर एंड इमेजिग सेंटर पर मंगलवार की शाम उद्घाटन के दौरान भारी फोर्स के साथ पुलिस-प्रशासन पहुंच गया और उसके संचालन पर 'ब्रेक' लगा दिया। घंटों पुलिस प्रशासन व डाक्टरों के बीच बहस चलती रही। इसे लेकर उहापोह की स्थिति रही। बाद में डाइग्नोस्टिक सेंटर के डाक्टर पीएल गुप्ता द्वारा लिखित रूप से इसका संचालन नहीं करने का आश्वासन दिए जाने के बाद मामला शांत हुआ। इसके बाद एसडीएम सदर निरंकार सिंह फोर्स के साथ वापस हुए।
आइएमए के अध्यक्ष व वरिष्ठ सर्जन डा. पीएल गुप्ता के डाइग्नोस्टिक सेंटर का मंगलवार को उद्घाटन होना था। शाम को उद्घाटन के बाद समारोह चल रहा था। इसी बीच एसडीएम सदर कई थानों की फोर्स के साथ वहां पहुंच गए और सेंटर के निर्माण को अवैध बताते हुए कार्यक्रम को रोक दिया। इस दौरान जनपद के प्रतिष्ठित डाक्टर व अन्य लोग भी उपस्थित थे। अचानक प्रशासन की कार्रवाई से दोनों पक्षों में बहस शुरू हो गई। डाक्टर पक्ष की तरफ से वकील भी आ गए। धक्का-मुक्की व मामला गंभीर होते हुए अतिरिक्त मजिस्ट्रेट आशुतोष राय भी और फोर्स के साथ पहुंच गए। एसडीएम का कहना था कि सेंटर गाटा संख्या 118 भीटा की भूमि पर बना हैं। इस भूमि को डाक्टर ने अपने नाम करवा लिया था। पूर्व के एसडीएम ने इसे खारिज कर दिया था। इसके बावजूद निर्माण कार्य कराया गया। एसडीएम ने यह भी बताया कि गाटा संख्या 117 की भूमि का नक्शा पास कराया गया है और निर्माण गाटा संख्या 118 व 117 दोनों में किया जा रहा है। यह पूरी तरह से अवैध है। इसे सील करने के लिए गए थे। चूंकि यह मामला बोर्ड आफ रेवेन्यू में चल रहा है। जब तक अंतरिम आदेश नहीं आ जाता, तब तक यह सेंटर चालू नहीं किया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad