डीएम व नोडल अधिकारी की जाँच में गांव की खुली पोल, ग्रामीणों ने समस्याओं की गिनती गिनाए* - Ideal India News

Post Top Ad

डीएम व नोडल अधिकारी की जाँच में गांव की खुली पोल, ग्रामीणों ने समस्याओं की गिनती गिनाए*

Share This
#IIN
नसीम अहमद शोहरत अली मछली शहर जौनपुर
*मछलीशहर, डीएम व नोडल अधिकारी की जाँच में गांव की खुली पोल, ग्रामीणों ने समस्याओं की गिनती गिनाए*


विकास खंड मछलीशहर स्थित जमुहार गांव में नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी जिलाधिकारी जौनपुर मनीष वर्मा एव सीडीओ अनुपम शुक्ला जौनपुर ने ग्रामीणों की जन समस्याये सुनी, व जल्द से जल्द निदान करने का आश्वासन दिया। शनिवार को क्षेत्र के जमुहार गांव के प्राथमिक विद्यालय पर लगभग 11:33 मिनट पर पहुचे अधिकारियों ने चौपाल लगाकर ग्रामीणों से विकास कार्यो की जानकारी लिया।उत्तर प्रदेश शासन से नोडल अधिकारी जी एस प्रियदर्शी गांव स्थित नव निर्मित अटल मनरेगा पार्क का उद्घाटन कर प्राथमिक विद्यालय में जनचौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं को सुनी। 
डीएम व शासन द्वारा पहुचे नोडल अधिकारियों की चौपाल में ग्रामीणों ने समस्याओं की झड़ी लगा दिया।इसी क्रम में ग्रामीणों ने बताया कि गांव के दलित बस्ती में विजली अभी तक नही है। किन्तु विभाग द्वारा हजारो का बिल भेजा जा रहा हैं। जिस पर उनका माथा ठनका और विजली विभाग के एक्सीयन को जमकर फटकार लगाई। पूछताछ में बताया गया कि गांव में लगभग 1200 परिवार हैं किन्तु गांव में मात्र 265 ही कनेक्शन हैं। जिसमे मात्र 24 ट्रांसफॉर्मर लगे जो ओवरलोड के चलते जल जा रहे है।  गांव निवासी महिला सुधा ने बताया कि विभाग द्वारा बिल अधिक आता हैं। जिसपर अधिकारियों ने विद्युत विभाग के एक्सीयन को जमकर फटकार लगाई और ग्रामीणों की समस्या को तत्काल दूर करने के लिए निर्देशित किया। जिसपर वह एक माह का समय लिया। दलित बस्ती निवासी दुलमा ने बताया कि अब तक गांव की बस्ती में जाने के लिए कोई रास्ता नही हैं। गांव के निवर्तमान प्रधान श्याम सुंदर बिंद से जिलाधिकारी ने पूछा कि गांव में कितनी छात्राएं ऐसी है जो विद्यालय नही जाती जिसपर प्रधान ने बताया मात्र एक छात्रा हैं जो विद्यालय नही जाती। जिस पर वह आशा बीडीओ व एबीएसए को आवश्यक निर्देशित किया। उपस्थित लोगों को केसीसी कार्ड बनवाने के लिए कृषि अधिकारी द्वारा प्रेरित किया गया। 
धान क्रय केंद्र पर हो रही समस्या को गांव निवासी लालबहादुर ने जिलाधिकारी को बताई। जिस पर वह तत्काल एसडीएम मछलीशहर को निर्देशित किया। 
ग्रामीणों ने छुट्टा पशुओ से खेतों में खड़ी फसलो के नुकशान के सम्
गांव में कुल 10 महिला स्वयं सहायता समूह हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस महिला समूह को बैंक से संबंधित कोई समस्या आती हैं तो वह बीडीओ को अवगत कराएं। 
इस दौरान डीपीआरओ जौनपुर मौजूद नही रहे। जिसपर नोडल अधिकारी ने नाराजगी जताई। 
इस मौके पर सीडीओ अनुपम शुक्ला, कॉपरेटिव शिल्पा तिवारी, बीडीओ राजन राय, एसडीएम अंजनी सिंह, एक्सईन रामानंद मिश्रा, अमर सिंह पटेल, आरपी विश्वकर्मा, अनिल सिंह सहित सैकड़ो ग्रामीण जाँच में उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad