ये है दुनिया का इकलौता झीलों वाला देश - Ideal India News

Post Top Ad

ये है दुनिया का इकलौता झीलों वाला देश

Share This
#IIN



दुनिया के हर देश की अपनी अलग खासियत होती है. कहीं प्रकृति तो कभी आधुनिक जीवन शैली उसे विशेष बनाती है. आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे झीलों के देश के नाम से जाना जाता है. यूरोप में स्थित इस देश का नाम है फिनलैंड. दरअसल, उत्तरी यूरोप के फेनोस्केनेडियन क्षेत्र में स्थित फिनलैंड (Finland) बेहद ही खूबसूरत देश है. यहां आपको कदम-कदम पर झील (Lake) और तालाब (Pond) नजर आ जाएंगे.

इसीलिए फिनलैंड को 'झीलों का देश' (Country of Lakes) कहा जाता है. फिनलैंड में झीलों की संख्या जानकर आप हैरान रह जाएंगे. क्योंकि फिनलैंड में एक लाख 87 हजार से भी ज्यादा झीलें हैं. यहां की झीलें फिनलैंड की खूबसूरती में चार चांद लगा देती हैं. इन सब के अलावा फिनलैंड में बहुत सी और भी चीजें है जो आपको हैरान कर देंगी. बता दें कि फिनलैंड एक ऐसा देश है, जहां का मौसम बहुत ही सुहावना और मनमोहक रहता है.

गर्मियों के मौसम में यहां रात के 10 बजे तो ऐसा लगता है कि जैसे अभी-अभी शाम हुई हो. वहीं ठंड के मौसम (Winter Season) में यहां दिन में अधिकांश समय अंधेरा ही रहता है. सिर्फ दोपहर में ही कुछ समय के लिए सूरज दिखाई देता है. लेकिन ऐसा कभी कभी ही होता है. इसके अलावा फिनलैंड में पत्नियों को पीठ पर उठाकर दौड़ने की एक विश्व स्तरीय प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाता है. इस प्रतियोगिता में जो भी व्यक्ति जीतता है, उसे उसकी पत्नी के वजन के बराबर बीयर पुरस्कार के रूप में दी जाती है. इसीलिए इस प्रतियोगिता को दुनिया की सबसे अनोखी प्रतियोगिता कहा जाता है.

इसके अलावा फिनलैंड का सबसे दिलचस्प कानून ये है कि यहां ट्रैफिक चालान लोगों की तनख्वाह के हिसाब से काटे जाते हैं. हालांकि, इसका गलत फायदा भी लोग खूब उठाते हैं. क्योंकि लोग जानबूझकर ट्रैफिक पुलिस से अपनी तनख्वाह कम बताते हैं, ताकि उनका चालान कम रुपये का काटा जाए. यहां 'टोर्नियो' नाम का एक बेहद ही अनोखा गोल्फ का मैदान भी है, जिसका आधा भाग फिनलैंड में और आधा स्वीडन में पड़ता है. इस गोल्फ कोर्स में कुल 18 होल्स हैं, जिसमें से नौ फिनलैंड में और बाकी के नौ स्वीडन में पड़ते हैं ये अपने आप में दो देशों में फैला गोल्ड कोर्स है. यहां अक्सर लोग खेलते-खेलते एक देश से दूसरे देश में पहुंच जाते हैं.

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad