बिहार के अलग-अलग विश्वविद्यालयों में तीस हजार विद्यार्थियों का डिग्री पांच साल से अधर में - Ideal India News

Post Top Ad

बिहार के अलग-अलग विश्वविद्यालयों में तीस हजार विद्यार्थियों का डिग्री पांच साल से अधर में

Share This
#IIN
कमल कुमार कश्यप 
रांची झारखंड बिहार

 बिहार के अलग-अलग विश्वविद्यालयों में तीस हजार विद्यार्थियों का डिग्री पांच साल से अधर में


 बिहार के विश्वविद्यालयों में पठन-पाठन और परीक्षा में ही लेटलतीफी में नहीं है, बल्कि जो विद्यार्थी परीक्षा पास कर चुके हैं उन्हें डिग्री के लिए परेशान होना पड़ रहा है| स्नातक और स्नातकोत्तर के 30307 विद्यार्थियों को अब तक डिग्रीया नहीं मिली है| इनमें ऐसे विद्यार्थी भी हैं, जिन्हें 5 साल से डिग्री मिलने का इंतजार है |पुरानी डिग्रियों के लंबित मामलों के बीच नए विद्यार्थियों के भी डिग्रियों के लिए लगातार आवेदन हो रहे हैं|
 डिग्रियों से जुड़े लंबित मामलों को राजभवन सचिवालय ने खुद संज्ञान लिया है| राजभवन ने हर सप्ताह डिग्रियों के लंबित मामलों को प्राथमिकता के आधार पर निष्पादित करने का आदेश कुलसचिवो  को दिया है |डिग्रियां बांटने में पटना विश्वविद्यालय और ललित नारायण मिश्र, मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा का ट्रैक रिकॉर्ड सबसे बेहतर है| पटना विश्वविद्यालय में  डिग्रियों संबंधित मात्र 53 मामले लंबित है| ललित नारायण मिश्र, मिथिला विश्वविद्यालय में सिर्फ 107 मामले लंबित है|
 वहीं जानकार बताते हैं कि पटना विश्वविद्यालय मैं 53  डिग्रीया लंबित, मगध विश्वविद्यालय में 4617,वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय में 1495 , जयप्रकाश विश्वविद्यालय में 11716 डिग्री,मजहरुल हक विवि में 4543 डिग्री, बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में 4906 डिग्री, एलएनएम मिथिला विश्वविद्यालय में 107,कामेश्वर सिंह दरभंगा विश्वविद्यालय में 1112,तिलका मांझी भागलपुर विश्वविद्यालय में 1044 डिग्रीया, बीएन मंडल विश्वविद्यालय में 714 डिग्रीया लंबित पड़ी हुई है|

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad