दाऊद इब्राहिम के इशारे पर गुजरात और महाराष्ट्र में बम विस्फोट से दहलाना चाहता था डॉन का गुर्गा - Ideal India News

Post Top Ad

दाऊद इब्राहिम के इशारे पर गुजरात और महाराष्ट्र में बम विस्फोट से दहलाना चाहता था डॉन का गुर्गा

Share This
#IIN
कमल कुमार कश्यप 
रांची झारखंड 
दाऊद इब्राहिम के इशारे पर गुजरात और महाराष्ट्र में बम विस्फोट से दहलाना चाहता था डॉन का गुर्गा


 गुजरात एटीएस के हत्थे चढ़ा अब्दुल माजीद कुट्टी आज से 24 साल पहले दाऊद इब्राहिम के इशारे पर गुजरात और महाराष्ट्र में बम विस्फोट से दहलाना चाहता था |
गुजरात एटीएस ने 1996 में गुजरात के मेहसाणा से विस्फोटकों और हथियारों का पाकिस्तान से मंगाया गया जखीरा बरामद कर आतंकियों की साजिश को नाकाम कर दिया था| इस मामले मैं अजमेर से फजल मोहम्मद उस्मान, मुंबई से अनवर कुरेशी, और उत्तर प्रदेश के बरेली से शकील इब्राहिम कुरैशी, के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था, बाद में इसमें कुट्टी की संलिप्तता भी सामने आई थी| मेहसाणा की एक अदालत ने दाऊद इब्राहिम अबू सलेम और अन्य के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था| एटीएस डीएसपी केके पटेल ने कहा कि उन्हें सूत्रों से पता चला कि उसकी पहचान छिपाकर जमशेदपुर में रह रहा है| इसके बाद जमशेदपुर पुलिस की मदद से उसे मानगो थाना के सामने से गिरफ्तार कर लिया गया, गिरफ्तारी के वक्त वह लग्जरी कार से मांनगो बाजार की ओर जा रहा था| गुजरात एटीएस उसे अपने साथ ले गई, जिस समय पकड़ा गया वह फोर्ड गाड़ी में अकेला ही था| कुट्टी मूल रूप से केरल का मूल निवासी है, जमशेदपुर के मानगो स्थित सहारा सिटी में वह जून 2019 से एक डुप्लेक्स मकान में पत्नी दो बेटे और एक बेटी के साथ रह रहा था |
वैसे खुद को बताता था चावल दाल का बड़ा कारोबारी, 24 वर्षों से अब्दुल मजीद कुट्टी तमाम एजेंसियों की आंखों में धूल झोंक कर मलेशिया दुबई वह बैंकाक सहित अन्य देशों में घूम रहा था |वह कुटी मोहम्मद कमाल के नाम से जमशेदपुर में रहता था, इसी नाम का पासपोर्ट भी वह प्रयोग कर रहा था| पड़ोस में रहने वाले को भी इन की भनक नहीं थी, कई पड़ोसियों ने बताया कि यह और उसका परिवार काफी मिलनसार है |जब भी वह मिलता गर्म जोशी से मिलता था| बहुत अधिक बातचीत नहीं करता था खुद को दाल चावल का बड़ा कारोबारी बताता था|

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad