पाक ने एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से निकलने के लिए गढ़ा सफेद झूठ - Ideal India News

Post Top Ad

पाक ने एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से निकलने के लिए गढ़ा सफेद झूठ

Share This
#IIN


इस्लामाबाद

 आतंकियों को पनाह देने वाला पाकिस्तान अब भारत पर ही बेबुनियाद आरोप लगाकर एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से निकलने की कोशिश में है। उसने अपने यहां चल रहे आतंकी फडिंग के मामले प्रत्यक्ष रूप से सामने आने के बाद भी फाइनेंसियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की ग्रे लिस्ट से निकलने के लिए पत्र लिखा है। इस पत्र में यूरोपियन यूनियन डिसइंफोलैब की झूठी रिपोर्ट का सहारा लिया है, जिसमें भारत पर मनगढ़ंत आरोप लगाए गए हैं।

पाकिस्तान की कोशिश है कि वह किसी तरह से ग्रे लिस्ट से बाहर आ जाए। इसीलिए उसने पिछले दिनों कुछ आंतकवादियों पर दिखावे के लिए कार्रवाई की थी। पाकिस्तान ने एफएटीएफ को लिखे पत्र में अपनी खस्ता हाल आर्थिक स्थिति का भी हवाला दिया है। उसने गुहार की है कि यदि ग्रे लिस्ट से बाहर नहीं किया गया तो उसकी स्थिति और खराब हो जाएगी। पाकिस्तान अब आतंकवादियों के खिलाफ वास्तव में कार्रवाई करने के बजाय प्रपंच का सहारा ले रहा है।

ज्ञात हो कि एफएटीएफ एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है, जो मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फंडिंग जैसे वित्तीय मामलों में दखल देते हुए तमाम देशों के लिए गाइडलाइन तय करती है। ब्लैकलिस्ट में उन देशों को रखा जाता है, जो आतंकवाद को वित्तीय तौर पर बढ़ावा दे रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad