विधानसभा निर्वाचन 2022 में वाराणसी में मतदान का बनेगा नया कीर्तिमान - Ideal India News

Post Top Ad

विधानसभा निर्वाचन 2022 में वाराणसी में मतदान का बनेगा नया कीर्तिमान

Share This
#IIN


Dr.U.S. Bhagat

वाराणसी 
राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर कमिश्नरी ऑडिटोरियम सभागार में कार्यक्रम में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कहा कि आगामी वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा निर्वाचन के दौरान वाराणसी में रिकॉर्ड मतदान करके नया कीर्तिमान बनाए जाने का मतदाताओं से जोरदार अपील की है। उन्होंने कहा कि भारत में चुनाव की गरिमा ऐसी बन गई है कि दुनिया का कोई देश हमारे कसौटी पर खरा नहीं उतर पाता। चुनाव की पवित्रता निष्पक्षता एवं पारदर्शिता पर उन्होंने विशेष जोर देते हुए कहा कि हमारे देश में कई मुद्दों पर लोगों के विशेषकर राजनीतिक दलों में विविधता एवं मनभिन्नता होने के बावजूद चुनाव प्रक्रिया पर सभी के मत एक ही होते हैं। उन्होंने बताया कि पहले मतदान दिवस पर सुरक्षा के नाम पर ऐसा वातावरण बन जाता था कि लोग मतदान केंद्रों पर जाने की बजाए अपने-अपने घरों में ही अवकाश के रूप में मनाते रहे। लेकिन धीरे-धीरे भारत निर्वाचन आयोग ने इस वातावरण में आमूलचूल परिवर्तन करते हुए मतदान दिवस को उत्सव के रूप में तब्दील कर दिया है। उन्होंने कहा कि भारत कई चीजों पर गर्व कर सकता है, लेकिन लोकतंत्र की मजबूती पर हमारा सीना चौड़ा हो जाता है। भारत में चुनाव प्रक्रिया पूरी तरह पवित्र एवं निष्पक्षता से भरा हुआ है। यही कारण है कि सभी लोग विशेषकर राजनीतिक दलों के लोग इस एक मामले पर एकमत रहते हैं। भारत का लोकतंत्र दुनिया में सबसे मजबूत लोकतंत्र है। देश के मतदाता ग्राम प्रधान, पार्षद से लगाए विधायक एवं सांसद का चुनाव करते हैं और यही विधायक और सांसद प्रदेश एवं देश के मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री बनते हैं। उन्होंने बताया कि मतदाता सूची ऑनलाइन है। लोग मतदाता सूची में अपने नाम को ऑनलाइन देख सकते हैं और जिन लोगों का नाम मतदाता सूची में नहीं है। पुनरीक्षण का कार्य चल रहा है, ऐसे लोग फार्म-6 भरकर मतदाता सूची में अपना नाम भी दर्ज करा सकते हैं फार्म-6 भरने की भी प्रक्रिया ऑफलाइन एवं ऑनलाइन है। लोग ऑनलाइन भी फार्म-6 भर सकते हैं और मतदाता सूची में नाम जुड़वा सकते हैं। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही 1 जनवरी, 2022 के आधार पर पुनरीक्षण कार्य शुरू होगा। कमिश्नर ने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जो नवयुवक पहली बार मतदाता बनते हैं, उनमें मतदान के प्रति उत्साह अधिक होता है। अधिक से अधिक मतदान करना और इसे सुनिश्चित कराना ही राष्ट्रीय मतदाता दिवस का उद्देश्य है। भारतीय संविधान के मुताबिक, जनता ही इस अनूठे लोकतंत्र की बुनियाद है। जहां सरकार को जनता चुनती है। जिसे 5 साल में एक बार केंद्र और राज्य सरकार चुनने का सीधा अधिकार है। आज उसी जनता का दिन है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर युवा मतदाताओं को मतदाता फोटो पहचान पत्र का भी वितरण किया गया। जिसमें युवा महिला मतदाता के रूप में 8, युवा पुरुष मतदाता के रूप में 16, दिव्यांग मतदाता के रूप में 2 तथा तृतीय लिंग मतदाता के रूप में सलमान चौधरी, बरखा, राखी, उमा, रोशनी और बिंदिया सहित 6 लोगों को मतदाता फोटो पहचान पत्र विधायक सौरभ श्रीवास्तव एवं कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने संयुक्त रूप से उपलब्ध कराएं। राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने उपस्थित लोगों को शपथ दिलाते हुए कहां कि "हम भारत के नागरिक लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए यह शपथ लेते हैं कि हम अपने देश की लोकतांत्रिक परंपराओं क़ी मर्यादा को बनाए रखेंगे तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुए निर्भीक होकर, धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे"। कमिश्नर दीपक अग्रवाल सोमवार को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर कमिश्नरी ऑडिटोरियम सभागार में आयोजित कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे। विधायक सौरभ श्रीवास्तव ने मतदाता जागरूकता कार्यक्रम गांव-गांव, कस्बा-कस्बा सहित तुरंत ग्राम सभाओं में नुक्कड़ नाटक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से कराए जाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि पिछले डेढ़ दो दशक में चुनाव प्रक्रिया में जबरदस्त सुधार आया है जो क्रांतिकारी कदम है। बूथ कैपचरिंग बंद हो गया है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं में जागरूकता जितना बढ़ेगा लोकतंत्र उतना ही मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि मजबूत सरकार तभी आएगी जब मतदान दिवस को लोग पर्व के रूप में मनाएंगे। फार्म-6 का काम ऑनलाइन शुरू हो चुका है, जिनका भी नाम मतदाता सूची में नहीं है वह ऑनलाइन नाम जुड़वाने के लिए फार्म-6 भर सकते हैं। इससे पूर्व विधायक सौरभ श्रीवास्तव एवं कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने दीप प्रज्वलित करने के पश्चात सरस्वती प्रतिमा पर माल्यार्पण कर राष्ट्रीय मतदाता दिवस का विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर विभिन्न विद्यालयों के छात्र छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं नुक्कड़ नाटक के मंचन से अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग करने हेतु लोगों को भावपूर्ण संदेश देने में सफलता अर्जित की।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad