क्रांतिकारी वीर सपूत ,महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वी जयंती को क्रांतिकारी पत्रकार परिषद के द्वारा जौनपुर के सामुदायिक भवन में पराक्रम दिवस के रूप में मनाई गई - Ideal India News

Post Top Ad

क्रांतिकारी वीर सपूत ,महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वी जयंती को क्रांतिकारी पत्रकार परिषद के द्वारा जौनपुर के सामुदायिक भवन में पराक्रम दिवस के रूप में मनाई गई

Share This
#IIN
डा प्रमोद वाचस्पति जौनपुर

जौनपुर। जौनपुर क्रांतिकारी वीर सपूत ,महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वी जयंती को क्रांतिकारी पत्रकार परिषद के द्वारा जौनपुर के सामुदायिक भवन में पराक्रम दिवस के रूप में मनाई गई।





 कार्यक्रम का शुभारंभ केंद्रीय प्रमुख अनिल दुबे आजाद ने नेताजी के चित्र पर माल्यार्पण करके किया। केंद्रीय प्रमुख की अध्यक्षता में हुए इस कार्यक्रम में क्रांतिकारी पत्रकार परिषद केंद्रीय प्रमुख मा. अनिल दुबे आजाद के निर्देशन में नवनियुक्त प्रदेश प्रमुख नौशाद खान एवं महासचिव श्रीधर तिवारी की उपस्थिति में 9 उपाध्यक्ष 9 सचिव तथा 9 संगठन मंत्री समेत 40 पदाधिकारियों की सूची जारी की गई। इसके साथ ही साथ दिल्ली एवं महाराष्ट्र प्रदेश के लिए प्रभारी भी घोषित किए गए जो इस प्रकार है – संरक्षक मंडल में राम श्रृंगार शुक्ला गदेला संपादक डॉ प्रमोद वाचस्पति, संपादक मोहर्रम अली के अलावा प्रदेश अध्यक्ष नौशाद खान, महासचिव श्रीधर तिवारी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राकेश कुमार पांडे सीतापुर, 9 सचिव के रूप में रामदयाल द्विवेदी जौनपुर ,संपादक दिलीप कुमार बाराबंकी, वीरेंद्र कुमार बरेली ,संतोष पाठक अयोध्या , संपादक सतीश कुमार वाराणसी ,साजिद अंसारी कुशीनगर ,बीएन मिश्रा आगरा, अनुराग अवस्थी पीलीभीत तथा उपाध्यक्ष के रूप में संपादक नितेश बनर्जी लखनऊ, संपादक राहुल तिवारी सुल्तानपुर, संतोष यादव अयोध्या ,संपादक भारतीय सहारा श्याम शंकर पाण्डेय ,संदीप जोतवानी लखीमपुर ,दीपक सिंह वाराणसी ,संपादक एसपी निराला मोहम्मदी खीरी आकाश गुप्ता जौनपुर, संजय सिंह लखनऊ सहित 9 संगठन मंत्री संपादक महेंद्र बंधु जौनपुर, संपादक एडवो मुकेश तिवारी अंबेडकरनगर, सिराज अहमद लखीमपुर ,दीपक मिश्रा अयोध्या, हिमांशु दीक्षित उन्नाव, संपादक केएन सैनी उन्नाव, अभिषेक पांडे पीलीभीत ,संपादक प्रकाश चंद्र शुक्ल जौनपुर ,आशीष पाल प्रयागराज सहित प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य के रूप में कैप्टन महेंद्र सिंह ( प्रदेश प्रभारी दिल्ली ) डॉ अमित कुमार पांडे ( प्रदेश प्रभारी महाराष्ट्र) एस बी एस चौहान नोएडा, संपादक वीरेंद्र सिंह जौनपुर, संदीप राठौर शाहजहांपुर ,वीरेंद्र कुमार जौनपुर ,श्याम जी मिश्रा लखीमपुर ,जनाब चांद मोहम्मद वाराणसी आदि को शामिल किया गया है केंद्रीय प्रमुख संपादक अनिल दुबे आजाद ने सूची में जारी किए गए




तमाम संपादक पत्रकार बंधुओं को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के शुभ अवसर पर शुभकामनाएं देते हुए आशा व्यक्त किया कि पूरे प्रदेश में नेताजी के आदर्शों पर चलते हुए राष्ट्रीय खेल हॉकी के लिए भी जन जागरण का कार्य बखूबी अंजाम दिया जाएगा। नेताजी की तस्वीर पर प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार डॉ राम सिंगार शुक्ला “गदेला” ने माल्यार्पण किया। डॉ गदेला ने पत्रकार सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि नेताजी भारत के सर्वश्रेष्ठ कांतिकारी थे जिन्हें आज तक वह सम्मान नहीं प्राप्त हुआ जिसके वो हकदार थे। उन्होंने आजादी की लड़ाई में जो बलिदान दिया है वह अतुलनीय है। सर्वप्रथम देश के बाहर देश की आजादी के लिये जापान व जर्मनी की मदद से आजाद हिंद फौज का गठन किया और 21 अक्टूबर 1943 को जापान द्वारा दिये गए अंडमान निकोबार द्वीप समूह में आजाद हिंद सरकार का गठन किया जिसे विश्व के 11से अधिक देशों ने मान्यता दी। उन्होंने कहा कि 1945 में नेताजी की विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई ऐसा कहा जाता है। किंतु यदि यह सच है तो 1947 में देश की आजादी के बाद नेताजी को अंग्रेज सरकार को जिंदा या मुर्दा सौंपने के समझौते को करने की क्या जरूरत थी। सत्ता दल के इन्हीं असहयोग पूर्ण रवैये के कारण देश की आजादी के बाद भी नेताजी को ,जो आजादी के महानायक थे , गुमनाम जीवन जीने पर मजबूर होना पड़ा। पत्रकारों की सुरक्षा पर सरकार की नाकामी व बलिया में दिन दहाड़े हुई पत्रकार के साथ वारदात पर उन्होंने दुख जताया।

पत्रकार की सुरक्षा के मुद्दे पर वरिष्ठ पत्रकार एवं संपादक प्रमोद वाचस्पति ने बताया कि पत्रकार के पास जो कलम है वही उसकी कटार है जिसकी धार को वर्तमान दशा में पैनी करना है और अपनी सुरक्षा हेतु हमें संगठित रहना होगा क्योंकि आने वाली सभी सरकारें पत्रकारों की सुरक्षा का दावा करती हैं लेकिन कोई ऐसा कानून नहीं बनाती हैं जिससे समाज में व्याप्त अपराधों के प्रति सामान्य जन के कलम प्रहरी को किसी सुरक्षा का अनुभव हो। उन्होंने बीच बीच में कविता और शायरी के माध्यम से पत्रकारों व समाज के लोगों की समस्याओं और उनसे निपटने के तरीकों को प्रस्तुत करते हुए सभी लोगों का उत्साह भी बढ़ाया।
सभा के समापन में अनिल दुबे आजाद जी ने पत्रकारों को संगठित रहकर अपनी कलम को मजबूती से चलाने का पत्रकारों से आह्वान किया । उन्होंने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे राष्ट्रीय खेल हाकी को लोग भूल चुके हैं अतः हमारे सभी पत्रकार बन्धु अपने राष्ट्रीय खेलो के प्रति लोगों को आकर्षित करन के लिये अपने साथ हाकी अवश्य रखें। क्रांतिकारी पत्रकार परिषद की मीटिंग में पूरे जनपद व प्रदेश के अन्य जनपदों से भी आए पत्रकारों ने नेताजी के साथ साथ पत्रकारों की समस्याओं पर अपने अपने विचार व्यक्त किये।नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के जन्मदिवस पर क्रांतिकारी पत्रकार परिषद प्रमुख आजाद ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए सभी पत्रकारों को नेताजी के क्रांतिकारी विचारधाराओं से जुड़कर उनके पद चिन्हों पर चलने का आह्वान किया और साथ-साथ पत्रकारिता के गिर रहे स्तर को ऊंचा उठाने, जनहित की खबरों को प्रमुखता से प्रकाशित करने, समाज की पीड़ा व पत्रकारों के स्वाभिमान व हक की लड़ाई लड़ने के लिए एकजुट होने की अपील किया । उन्होंने सरकार द्वारा पत्रकारिता को निचले पायदान पर रखने, पत्रकारों के स्वाभिमान को हाशिए पर रखने और पत्रकार सुरक्षा कानून लागू किए जाने पर कड़ा ऐतराज जताया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से समरबहादुर सिंह,संदीप मिश्रा,रामनरेश प्रजापति, माया कान्त यादव,ओमप्रकाश सिंह, डॉ जयसिंह राजपूत आदि लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए। क्रांतिकारी पत्रकार परिषद द्वारा आयोजित जयंती समारोह में सैकड़ों की संख्या में पत्रकारों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad