न्यूट्रिशन से भरपूर मशरूम खाकर बनाएं अच्छी सेहत - Ideal India News

Post Top Ad

न्यूट्रिशन से भरपूर मशरूम खाकर बनाएं अच्छी सेहत

Share This
#IIN







DR. RJ GUPTA

मशरूम कई सारे पोषक तत्वों का खजाना होता है, जाे हमारे सेहत के लिए बहुत ही जरूरी हैं। अच्छी सेहत के साथ ही मशरूम कई सारी बीमारियों से बचाने और उसे ठीक करने में मददगार होते हैं। जिसके बारे में आज हम जानेंगे। यकीनन इसके फायदे जानने के बाद आप इसे अपनी डाइट का हिस्सा बनाने से खुद को रोक नहीं पाएंगे।

इम्यूनिटी करता है बूस्ट

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर मशरूम फ्री रेडिकल्स से बचाते हैं। इन्हें खाने में बॉडी में प्रोटीन और एंटीवायरल की मात्रा बढ़ती है जो डैमेज सेल्स की मरम्मत और नए सेल्स की ग्रोथ में मदद करता है। मशरूम एक नेचुरल एंटीबायोटिक है जिसके सेवन से फंगल इंफेक्शन को भी ठीक किया जा सकता है।

हृदय रोगों से रखता है दूर

मशरूम में मौजूद एंजाइम्स और फाइबर कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने का काम करते हैं। इसके अलावा मशरूम में पाए जाने वाले उच्च फाइबर, अनसैचुरेटेड फैटी एसिड व सोडियम के साथ-साथ इरिटेडेनिन फेनोलिक यौगिक और स्टेरोल्स हानिकारक कॉलेस्ट्राल को कम करते हैं और आपके दिल को रखता है दुरूस्त।

मोटापे से बचाव

मोटापा कम करने वालों को प्रोटीन रिच डाइट लेने की सलाह दी जाती है और मशरूम प्रोटीन का स्त्रोत है। इसमें लीन प्रोटीन होता है। इसके अलावा मशरूम में एंटी ओबेसिटी गुण भी होते हैं, जो बढ़ते वजन को कम करने में फायदेमंद हो सकते हैं

मेटाबॉलिज्म बनाता है बेहतर

खराब मेटाबॉलिज्म की वजह से हृदय रोग, मोटापा, कैंसर व मधुमेह जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मशरूम में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मेटाबॉलिज्म सुधारने के साथ ही इन सभी समस्याओं को दूर करने में भी मददगार होता है। 

दूर करें रक्त की कमी

आयरन और फॉलिक एसिड की वजह से महिलाओं और बच्चों में ब्लड की कमी होती है। तो हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ाने के लिए अपने भोजन में मशरूम शामिल करें।

डायबिटीज रोगिंयों के लिए फायदेमंद

कुछ खास प्रकार के मशरूम में एंटीडायबिटिक गुण पाए जाते हैं, जो ब्लड में मौजूद शुगर की मात्रा को कम करने में मदद कर सकते हैं। इनके कारण मशरूम डायबिटीज को कंट्रोल कर उसके असर को बढ़ने से रोक सकता है। साथ ही अगर मशरूम का इस्तेमाल आप डायबिटीज की दवाओं के साथ करें, तो शरीर में इंसुलिन का लेवल बेहतर हो सकता है।  

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad