तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग अवैध, प्रदर्शनों के कारण खतरे में आएगा लोकतंत्र : अठावले - Ideal India News

Post Top Ad

तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग अवैध, प्रदर्शनों के कारण खतरे में आएगा लोकतंत्र : अठावले

Share This
#IIN



पणजी

 केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि अगर केंद्र ने प्रदर्शनों के आगे झुक कर उन कानूनों को वापस लेना शुरू कर दिया जिन्हें संसद में पारित किया गया है, तो संसदीय लोकतंत्र और संविधान बहुत बड़े खतरे में पड़ जाएगा। केंद्र में सत्तारूढ़ राजग के घटक दल रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआइ) के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री अठावले ने दिल्ली में किसानों के जारी प्रदर्शन पर संवाददाताओं से कहा कि कृषि सुधार के तीनों कानूनों को वापस लेने की मांग अवैध है। इन कानूनों को बहुमत के साथ संसद में पारित किया गया है।

अगर ऐसे कानूनों को इसलिए वापस ले लिया जाए कि उसके खिलाफ लोग प्रदर्शन कर रहे हैं तो यह बात संसद में पारित किए गए हरेक कानून पर अमल में लाई जाएगी। इससे संविधान और संसदीय लोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा। किसानों को केंद्र सरकार की ओर से प्रस्तावित समझौते पर राजी हो जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हाल ही में मध्यप्रदेश की एक रैली में कहा है कि नए कानूनों के कारण न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और कृषि उत्पादों की मंडी समितियों पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad