अजब गजब 👉 बुद्धि जीवी हल निकालें 🙏 राजेपुर की एक 12 वर्ष की बालिका थाने पर लेकर पहुँची फरियाद, इंस्पेक्टर हैरान* - Ideal India News

Post Top Ad

अजब गजब 👉 बुद्धि जीवी हल निकालें 🙏 राजेपुर की एक 12 वर्ष की बालिका थाने पर लेकर पहुँची फरियाद, इंस्पेक्टर हैरान*

Share This
#IIN
अन्जू पाठक जौनपुर
*राजेपुर की एक 12 वर्ष की बालिका थाने पर लेकर पहुँची फरियाद, इंस्पेक्टर हैरान*



*जौनपुर - जलालपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत राजेपुर गाँव के हरिजन बस्ती की एक 12 वर्ष बालिका थाने पर अपना हिस्सा दिलाने के लिए इंस्पेक्टर के पास फरियाद लेकर पहुँची तो थाना प्रभारी सहित थाने पर मौजूद सभी लोग हैरान हो गये, कि जिस बच्ची को पढ़ाई करने व स्कूल जाने की उम्र हैं वह बालिका दादा दादी से अपना हिस्सा लेने के लिए थाने पर फरियाद लेकर आई है।*

*इंस्पेक्टर सत्यप्रकाश सिंह ने दो कान्स्टेबल भेजकर फरियादी बालिका रानी पुत्री स्व. बिनोद कुमार की माँ नगीना देवी को थाने पर बुलवाए, और मामले की पूछताछ करने पर नगीना देवी ने बताया कि मेरे पहले पति स्वर्गवास हो चुका है और उसके बाद मैनें अपने देवर राम आसरे के साथ विवाह कर ली हूँ, और इनसे लड़की और एक लड़का है पहले से मुझे तीन लड़कियां थी।*

*जिसमें से दो लड़कियों की शादी रामआसरे ने कर दिया है, और पहले पति की तीसरी लड़की रानी जो अभी 12 वर्ष की है, लेकिन मेरे पति कहते है कि दोनों लड़कियों की शादी में 7 लाख खर्च हुए है, मेरे पिता चुन्नी लाल व माँ सुखदेई अर्थात लड़की के दादा दादी सात लाख मुझे दें और लड़की को अपने पास लें, नहीं तो मै नहीं रखूँगा, ताज्जुब की बात यह है कि लड़की की माँ भी अपने दूसरे पति की बातों से सहमत है।*

*उसे अपनी 12 वर्ष की बच्ची पर तनिक भी दया नहीं आ रही है, क्योंकि उसका मकसद है ससुर चुन्नीलाल पहले पति का और दूसरे पति का दोनों हिस्सा लिखापढ़ी के साथ मुझे दे दें, जबकी चुन्नीलाल के पास 6 लड़के हैं, और वे स्वयं अभी जिवित है, औरत के लालच की पराकाष्ठा इस हद तक पहुंच गयी है कि अपनी ही बेटी को बेटी नहीं समझ पा रही है।*

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad