*बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य प्रबंधक नरेंद्र प्रसाद सहित तीन पर पर जालसाजी,हेराफेरी एवं विश्वासघात करने का कैंट थाने में मुकदमा दर्ज* - Ideal India News

Post Top Ad

*बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य प्रबंधक नरेंद्र प्रसाद सहित तीन पर पर जालसाजी,हेराफेरी एवं विश्वासघात करने का कैंट थाने में मुकदमा दर्ज*

Share This
#IIN
डा यू एस भगत वाराणसी

*बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य प्रबंधक नरेंद्र प्रसाद सहित तीन पर पर जालसाजी,हेराफेरी एवं विश्वासघात करने का कैंट थाने में मुकदमा दर्ज*




बैंकर ही बना जालसाज, मुख्य प्रबंधक नरेन्द्र प्रसाद सहित तीन पर अपराधिक मुकदमा दर्ज

वाराणसी-फुलवरिया निवासी वेन्डर्स इण्डिया के साझेदार विनय शंकर राय के शिकायत पत्र के आधार पर मंगलवार को कैण्ट थाने मे बैक आफ बडौदा चादपुर के मुख्य प्रबन्धक नरेन्द्र प्रसाद , संकटमोचन शाखा के प्रबन्धक विरेन्द्र पान , ला अधिकारी प्रवीन उपाध्याय एवं रिकवरी एजेन्ट अश्वनी तिवारी के खिलाफ कैण्ट थाने मे आईपीसी की धारा 420,406 एवं 506 के तहत जालसाजी, हेराफेरी सहित विश्वास भंग इत्यादि आरोप के तहत मुकदमा पंजीकृत हुआ । 
बैक आफ बडौदा के मुख्य प्रबनधक सहित तीन लोगो ने वेन्डर्स इण्डिया के खाते से 29/06/2020 को बिना खातेदार के सहमति एवं जानकारी दिये वेन्डर्स इण्डिया के खाता संख्या 28650400000272 से बैकिग नियम की अनदेखी कर मनमाने तरीके से बैक ने जालसाजी कर 39 लाख रूपये एवं एफडीआर मे हेराफेरी करते हुये विश्वासभंग, पद का दुरूपयोग, इत्यादि की अनियमितता किया। जिसके सन्दर्भ मे वेन्डर्स इण्डिया के साझेदार विनय शंकर राय ने एक मुकदमा माननीय न्यायालय उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग आजमगढ मे  दाखिल किया ।जिस पर माननीय न्यायालय ने सुनवाई कर साक्ष्य के आधार पर 2 नवम्बर को स्पष्ट स्थगन आदेश देते हुये बैक को न्यायालय मे उपस्थित होकर 6 जनवरी 2021 को जबाब देने का आदेश दिये , उसके बावजूद बैक माननीय न्यायालय के आदेश की अवमानना कर लगातार वेन्डर्स इण्डिया के साथ द्वेशपूर्ण प्रक्रिया अपनाया था जिसके आधार पर वेन्डर्स इण्डिया के साझेदार विनय शंकर राय ने 5 नवम्बर को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वाराणसी के यहा साक्ष्य के साथ शिकाय पत्र दिये जिस पर जाच कर आज मुकदमा पंजीकृत किया गया।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad