ग़रीबों की मदद करना और उनके साथ अच्छा व्यवहार करना ही नेक काम है-शोएब मियां सज्जादानशीन* - Ideal India News

Post Top Ad

ग़रीबों की मदद करना और उनके साथ अच्छा व्यवहार करना ही नेक काम है-शोएब मियां सज्जादानशीन*

Share This
#IIN
*ग़रीबों की मदद करना और उनके साथ अच्छा व्यवहार करना ही नेक काम है-शोएब मियां सज्जादानशीन* 
----------------------------------
  *शरद कपूर /काज़िम हुसैन*     खैराबाद।सीतापुर





स्थानीय दरगाह आलिया सादिया हज़रत बड़े मखदूम साहब में चल रहे तीन दिवसीय 520 वें उर्स के समापन अवसर पर अंतिम दिन प्रातः क़ुरआन ख़्वानी हुई तथा दोपहर 11 बजे ख़ानक़ाह से सभी श्रद्धालुओं तथा दरगाह पर आने वाले सभी अमीर व ग़रीब लोगों को लंगर तक़सीम किया गया इसके पश्चात महफिले समा प्रारम्भ हुई जिसमें आए हुए तमाम कव्वालों ने अपना सूफियाना कलाम पेश करके खिराजे अक़ीदत का नज़राना पेश किया जबकि श्रद्धालुओं ने  चादर चढ़ा कर अपनी तमाम मन्नतों को माना भी और  पूरी होने पर प्रसाद भी चढ़ाया जबकि अक़ीदत में लोगों ने तरह तरह से लंगर भंडारे का आयोजन करके आए हुए ज़ायरीन को फायदा पहुचाया 
मखदूम साहब के 520 वें क़ुल शरीफ के अवसर पर उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए सज्जादा नशीन नजमुल हसन शोएब मियां ने कहा कि आज हमने अल्लाह और उसके रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की शिक्षा और उसके आदेशों उपदेशों को पूरी तरह से भुला दिया है हमारा ये हाल है कि जो हमारा दिल चाहता है हम वो करते हैं ये नही सोचते कि क्या ग़लत है और क्या सही बराबर अल्लाह की नाफ़रमानी करते रहते हैं और फिर कहते हैं कि हम परेशान हैं नमाज़ से कोसों दूर होते जा रहे हैं रात में देर से सोना और सुबह देर से उठने का फ़ैशन बन चुका है जो सरासर गलत है उसके नुक़सानात का हमे अंदाज़ा नही है इसलिए हमे चाहिए कि नेक काम करें सबके साथ अच्छे मामलात रखें नमाज़ की पाबन्दी करें औलिया अल्लाह से सच्ची मोहब्बत करें तभी कामियाबी हासिल होगी वरना सदैव घाटे में रहेंगे इसके बाद शोएब मियां के मामू सैय्यद अन्नू मियां सफ़वी ने मुल्क में अमन शान्ति की दुआ की जिस पर जनसमूह ने आमीन कहा। इस तीन दिवसीय उर्स में पूरे जनपद से आए तमाम श्रद्धालुओं ने शिरकत किया,इसके अतिरिक्त उपस्थित सज्जाद गान मझगवां शरीफ मखदूम शेख सारँग के सैय्यद आतिफ अली दानिश,मखदूम शाह सफी सफीपुर केअफ़ज़ाल फ़ारूक़ी,छोटे मखदूम साहब के मदनी मियां,मजा शाह क़लन्दर लहरपुर के सैय्यद गयास मियां,दरगाह हाफ़िज़िया असलमिया के हाजी सैय्यद फुरक़ान मियां,हाफिज मुन्ना शाह के एज़ाज़ हसन खान, क़ाज़ी बदरुद्दीन शाह उन्नाव के सैयद ज़िया अलवी,ख़ानक़ाह अलीमिया सफीपुर के सैय्यद शोएब बक़ाई,खानकाहे रज़्ज़ाकिया फरूखाबाद के सैय्यद हिलाल मुजीबी खीरी के मुश्ताक़ अहमद मुश्शन मियां, शारिक सफ़वी,दरगाह हक़ हू शाह के इशरत अली चिश्ती,आदि मौजूद थे जबकि दरगाह कमेटी के अध्यक्ष सैय्यद आमिर रिज़वी, सेक्रेटरी जावेद मुस्तफा टीटू खान, सदस्य सादी फ़ारूक़ी,  व अन्य सदस्य उपस्थित थे जबकि विशेष सहयोगी में सैय्यद मोइन अलवी,रफी बक़ाई, सैय्यद मुज़फ्फर अली शाहिद मोल्हे, जलीस खान,तय्यब उस्मानी,क़ारी इस्लाम अहमद आरफ़ी  अर्सलान,सैय्यद लारैब अलवी, शुजा रिज़वी,अहाउद्दीन,आदि उपस्थित रहे अंत मे शोएब मियां ने सभी हाज़रीन का शुक्रिया अदा किया।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad