जौनपुर में ‘‘विधिक साक्षरता शिविर‘‘ का आयोजन किया गया - Ideal India News

Post Top Ad

जौनपुर में ‘‘विधिक साक्षरता शिविर‘‘ का आयोजन किया गया

Share This
#IIN


Dharmendra Seth 

उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशानुसार एवं माननीय जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, एम0 पी0 सिंह के कुशल मार्ग दर्शन एवं अनुमति से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में
 लोगों को महिलाओं के साथ अश्लीलता, दहेज हत्या, तेजाब हमला, लैंगिक समानता एवं पोक्सो एक्ट आदि के प्रावधान के बारे में विधिक जानकारी प्रदान करने हेतु सिविल जज सी0डि0/प्रभारी सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मो0 फिरोज की अध्यक्षता में आज 28 अक्टूबर 2020 को ए0डी0आर0 केन्द्र जनपद न्यायालय जौनपुर में ‘‘विधिक साक्षरता शिविर‘‘ का आयोजन किया गया।
 इस अवसर पर सिविल जज सी0डि0/प्रभारी सचिव मो0 फिरोज द्वारा उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए बताया गया कि देश में प्रति एक हजार लड़कों पर सिर्फ 940 लड़कियाॅ हैं। उन्होंने बताया कि ‘‘गर्भधारण पूर्व और प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम, 1994‘‘ के तहत गर्भधारण पूर्व या बाद लिंग परीक्षण और जन्म से पहले कन्या भ्रूण हत्या के लिए परीक्षण करना अपराध है, भू्रण परीक्षण के लिए सहयोग देना या विज्ञापन करना, गर्भवती महिला का जबर्दस्ती गर्भपात कराना कानूनी अपराध है, जिसमें आजीवन कारावास तक की सजा का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि यदि भ्रूण हत्या और लड़कियों के खिलाफ बढ़ रहे अपराधों पर रोक नहीं लगाई गयी तो निकट भविष्य में लिंगानुपात में अन्तर और भी भयानक रूप ले सकता है।
 महिला रिसोर्स पर्सन शालिनी मौर्या द्वारा दहेज हत्या, घरेलू हिंसा से सम्बन्धित कानूनों पर प्रकाश डाला गया।
 इस अवसर पर दिलीप कुमार सिंह, देवेन्द्र कुमार यादव व अन्य तमाम अधिवक्ता व महिला-पुरूष वादकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad