बेटी पैदा होने पर ससुराल वालों ने विवाहिता को रखने से किया इनकार,पुलिस अधीक्षक के आदेश पर कोतवाली में दर्ज हुई एफ आई आर - Ideal India News

Post Top Ad

बेटी पैदा होने पर ससुराल वालों ने विवाहिता को रखने से किया इनकार,पुलिस अधीक्षक के आदेश पर कोतवाली में दर्ज हुई एफ आई आर

Share This
#IIN







Santosh Agarhari and Vijay Agarwal
 
*कहा:ससुराल आई तो जान से मार देंगे,गहने व कपड़े भी लौटाने से किया इनकार*
जौनपुर-जहां एक तरफ 'बेटी बचाओ,बेटी पढ़ाओ' का स्लोगन पूरे देश में चलाया जा रहा है।वहीं एक ऐसा मामला भी प्रकाश में आया जहां बेटी के पैदा होने पर ससुराल वालों ने विवाहिता को न सिर्फ रखने से इंकार किया बल्कि धमकी दिया कि आने पर जान से खत्म कर देंगे। गहने व कपड़े भी वापस नहीं किए।कोतवाली थाना क्षेत्र के मामले में एसपी के आदेश पर पुलिस ने पति समेत 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया तथा एफ आई आर की कॉपी सीजेएम की अदालत में प्रस्तुत किया।

कोतवाली थाना क्षेत्र के तारापुर तकिया निवासी भोलेनाथ गुप्ता ने एसपी को प्रार्थना पत्र दिया कि 3 जुलाई 2017 को अपनी पुत्री का विवाह सुल्तानपुर निवासी अजय कुमार गुप्ता से किया था। ससुराल वाले तीन लाख रुपए मेडिकल की दुकान को बढ़ाने के लिए मांगने लगे।कहे की लड़की सांवली थी केवल पैसे के लिए शादी मान लिया था।पुत्री को समझाया कि धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा।वह ससुराल गई। प्रताड़ना सहती रही।इसी बीच वह गर्भवती हो गई।ऑपरेशन से पुत्री पैदा हुई। ससुराल वालों ने कहा कि लड़की पैदा हुई अब हम लोग उसे अपने यहां नहीं रखेंगे। उसने दमाद को ₹20000 देकर समझा-बुझाकर अपनी पुत्री को विदा किया।कुछ महीनों बाद दोबारा पुत्री गर्भवती हो गई। परीक्षण में पता चला कि गर्भ में पुत्री है।ससुराल के लोग नाराज हो गए और गर्भपात कराने के लिए दबाव बनाने लगे। गर्भपात कराने के लिए सुल्तानपुर नर्सिंग होम में भर्ती कराए।पुत्री ने फोन से सूचित किया।हम लोग सुलतानपुर पहुंचे।वहां पहुंचने पर ससुराल वाले उसे छोड़ कर चले गए।उसे हॉस्पिटल से यहां लाकर एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया जहां 28 मार्च 2020 को पुत्री पैदा हुई।इस पर ससुराल वालों ने कहा कि लड़की पैदा करा ली गर्भपात नहीं कराया।अब तुम्हारी लड़की को नहीं रखूंगा।लड़के की दूसरी शादी होगी।गालियां देते हुए कहे की अगर लड़की को ससुराल लेकर आए तो जान से मार देंगे।पुत्री का सारा गहना व कपड़ा भी ससुराल वालों ने रख लिया।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad