नायब तहसीलदार एमपी सिंह से दुर्व्यवहार किए जाने का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है - Ideal India News

Post Top Ad

नायब तहसीलदार एमपी सिंह से दुर्व्यवहार किए जाने का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है

Share This
#IIN



Arun dubey       
मछलीशहर, जौनपुर
प्रभारी निरीक्षक मुंगराबादशाहपुर द्वारा विगत शनिवार को मुंगराबादशाहपुर थाने पर आयोजित समाधान दिवस के दौरान समाधान दिवस के प्रभारी अधिकारी नायब तहसीलदार एमपी सिंह से दुर्व्यवहार किए जाने का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है*

एक तरफ जहाँ राजस्व निरीक्षक गण, जिला लेखपाल संघ और जिला अमीन संघ घटना को प्रभारी निरीक्षक द्वारा राजस्व अधिकारी के साथ किया गया अमर्यादित आचरण बताते हुए विरोध कर रहे है तो वहीं दूसरी तरफ तहसील अधिवक्ता संघ ने भी कार्य बहिष्कार करते हुए तहसील अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष दिनेश चन्द्र सिन्हा व अध्यक्ष प्रेम बिहारी यादव के नेतृत्व में सैकड़ों अधिवक्ताओं ने परिसर में नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया और किसी राजस्व अधिकारी के साथ प्रभारी निरीक्षक सत्य प्रकाश द्वारा किए गए इस दुर्व्यवहार को अति निंदनीय बताते हुए उनके स्थानांतरण की मांग की।

बताते हैं कि विगत शनिवार को तहसील क्षेत्र के मुंगराबादशाहपुर थाना परिसर में आयोजित समाधान दिवस के दौरान समाधान दिवस के प्रभारी अधिकारी नायब तहसीलदार एमपी सिंह से मुंगराबादशाहपुर के प्रभारी निरीक्षक सत्य प्रकाश द्वारा किए गए दुर्व्यवहार से आक्रोशित समाधान दिवस में उपस्थित राजस्व निरीक्षक समेत समस्त उपस्थित राजस्वकर्मियों ने समाधान दिवस का बहिष्कार कर दिया था।
रविवार को छुट्टी होने के चलते देखने में भले ही मामला शान्त दिखा लेकिन सोमवार को तहसील खुलते ही मामला तूल पकड़ने लगा। एक तरफ जहाँ इस घटना से तहसील समेत समूचे जिले के लेखपालों में आक्रोश दिखायी दिया वहीं राजस्व निरीक्षक गण भी आक्रोशित दिखे। इसी के साथ जनपद का अमीन संघ भी नायब तहसीलदार के साथ प्रभारी निरीक्षक सत्य प्रकाश द्वारा किए गए दुर्व्यवहार से क्षुब्ध होकर प्रभारी निरीक्षक पर कार्यवाही के लिए जिलाधकारी को सम्बोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी मछलीशहर अंजनी कुमार सिंह को सौंपते हुए दोषी प्रभारी निरीक्षक पर कार्रवाई करते हुए उनके स्थानांतरण की मांग की।

प्रदर्शन कर ज्ञापन देने वालों में अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष दिनेश चन्द्र सिन्हा, अध्यक्ष प्रेम बिहारी यादव, आरपी सिंह, अशोक श्रीवास्तव, सुरेन्द्र मणि शुक्ल, ललित मोहन तिवारी, विनयप्रिय पाण्डेय, चन्द्रेश तिवारी, जीतलाल सहित सैकड़ों अधिवक्ता उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad