तरहसी में प्रशासन और पुलिस की जानकारी में चल रहा अवैध काराेबार, बिना चालान के नदी घाट से रोज निकाला जा रहा सैकड़ों ट्रैक्टर बालू - Ideal India News

Post Top Ad

तरहसी में प्रशासन और पुलिस की जानकारी में चल रहा अवैध काराेबार, बिना चालान के नदी घाट से रोज निकाला जा रहा सैकड़ों ट्रैक्टर बालू

Share This
#IIN
श्रवण सेठी
 मेदिनीनगर (झारखंड) 



तरहसी में प्रशासन और पुलिस की जानकारी में चल रहा अवैध काराेबार, बिना चालान के नदी घाट से रोज निकाला जा रहा सैकड़ों ट्रैक्टर बालू



यहां नहीं पहुंचती पुलिस, बेखौफ बालू की तस्करी
जिला प्रशासन व स्थानीय थाना पुलिस के नाक के नीचे सफेद बालू के काले कारोबार का खेल चल रहा है। यह कारोबार बिना रोकटोक जारी है और जिला प्रशासन कार्रवाई की जगह बालू माफियाओं को संरक्षण देने में जुटा हुआ हैं। खनन के साथ-साथ बिना चालान के सैकड़ों ट्रैक्टर बालू रोज ढोया जा रहा है। प्रशासन खनन माफिया पर अंकुश लगाने में नाकाम दिख रही है। पांकी प्रखंड क्षेत्र के सगालीम स्थित अमानत नदी घाट से दिन के उजाले में बालू के अवैध कारोबार हो रहा है। प्रतिदिन सैकड़ों ट्रैक्टर बालू खनन कर उच्च दामों में बेचा जा रहा है। पुलिस के नाक के नीचे से बालू के अवैध कारोबार हो रहा है।
गौरतलब हो कि 9 जून से 15 अक्टूबर तक नदी घाटों से बालू उठाव पर सरकार रोक लगा दी है। इसके बावजूद बालू माफिया और ट्रैक्टर मालिक सोने की इस काली कमाई में जोर-शोर से जुटे हैं। सगालीम अमानत नदी बालू घाट से सुबह 4:00 बजे से ही दर्जनों मजदूर बालू खनन करते नजर आते हैं। यहां से बालू का उठाव कर आसपास प्रखंडों में भेजा जाता है। बालू लदे वाहनों को देखकर पुलिस वालों की आंखें चमक उठती है। नाम नहीं छापने के शर्त पर कई ट्रैक्टर चालकों ने बताया कि बालू के अवैध कारोबार का छूट पंचायत ने दें रखी है। पंचायत में बैठक कर एक कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी इस धंधे से जुड़े लोगों से प्रति ट्रैक्टर सौ रुपए वसूली करते हैं। बालू की मनमानी कीमत के कारण सबसे ज्यादा परेशानी पीएम आवास बनाने वाले लाभुकों को उठाना पड़ रहा है। कई ग्रामीणों ने बताया कि पहले उन्हें ढाई से तीन सौ रुपए प्रति ट्रैक्टर बालू मिलता था लेकिन अभी 500 से एक हजार प्रति ट्रैक्टर बालू मिल रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि ट्रैक्टर मालिकों को इन दिनों बालू के अवैध कारोबार में चांदी ही चांदी है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad