समाजसेवी राजेश कुमार द्वारा सराहनीय कार्य, मंदबुद्धि बच्ची को उसके परिजनों से मिलाया* - Ideal India News

Post Top Ad

समाजसेवी राजेश कुमार द्वारा सराहनीय कार्य, मंदबुद्धि बच्ची को उसके परिजनों से मिलाया*

Share This
#IIN
मारकण्डेय तिवारी जौनपुर
*समाजसेवी राजेश कुमार द्वारा सराहनीय कार्य, मंदबुद्धि बच्ची को उसके परिजनों से मिलाया*



*राजेश स्नेह ट्रस्ट आफ एजुकेशन दिव्यांग बच्चों का स्कूल एवं पुनर्वास केंद्र के बैनर तले एक मंदबुद्धि बच्ची को उसके परिवार से मिलवाया गया*

*जौनपुर - समाजसेवी राजेश जी द्वारा बताया गया की उन्हें किसी द्वारा कहीं से पता लगा कि ओलंदगंज क्षेत्र में कालीकुत्ती की एक गली में मंदबुद्धि परेशान अवस्था में बच्ची टहल रही है उक्त मंदबुद्धि बच्ची के बारे में जानकारी मिलते ही तत्काल जाकर के उसके बारे में जानने की कोशिश किए।*

*किन्तु वह बच्ची कुछ बताने में असमर्थ थी और उसने कपड़ा फटा हुआ पहना था जिसे देख राजेश जी ने बगल के किसी दुकान वाले से कपड़ा मांग कर कपड़ा पहनाया और उस बच्ची को खाना खिलाने का प्रयास किया किन्तु वह खाना नहीं खाई उसके बाद समाजसेवी राजेश जी उसका मुंह धुलाया उसके पश्चात उक्त बच्ची को महिला थाना लेकर गए महिला थाना पुलिस ने उक्त मंदबुद्धि बच्ची को अपने यहाँ रखने से मना कर दिया।*

*महिला थाना पुलिस द्वारा मंदबुद्धि बच्ची को अपने यहाँ न लेने पर समाजसेवी राजेश जी ने उस बच्ची को नगर कोतवाली पुलिस को सौपा कोतवाली पुलिस ने बच्ची को अपने पास रख किसी तरह से पता लगाया कि यह बच्ची कटघरा क्षेत्र की रहने वाली है और मंदबुद्धि के कारण किसी तरह से भटक कर चली आई।*

*उसके बाद समाजसेवी राजेश जी ने उस बच्ची के परिजनों का पता लगाया और उस बच्ची के परिवार वालों को उस बच्ची को स्वय सुपुर्द कर दिया उस बच्ची को पाकर के परिजन बहुत खुश हुए।*

*समाजसेवी राजेश जी ने बताया कि मेरे दिमाग में यह बात चल रही थी की बच्ची मंदबुद्धि है और शहर में इधर-उधर घूमती रही तो सड़क पर तेज रफ्तार से गुजर रही गाड़ियों द्वारा बच्ची का एक्सीडेंट हो सकता था।*

*और बिना खाना पीना खाए बच्ची कहां भटकती रहेगी और डर इस बात का भी हो रहा था कि बच्ची किसी गलत व्यक्ति के हाथ न लग जाए जिससे अनहोनी की आशंका थी इसलिए मैंने प्रण किया की उस बच्ची को तत्काल भरपूर प्रयास कर उसके परिजनों से मिलाया जाए।*

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad