जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ जनपद सीतापुर की संयुक्त बैठक का आयोजन* - Ideal India News

Post Top Ad

जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ जनपद सीतापुर की संयुक्त बैठक का आयोजन*

Share This
#IIN
*जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ जनपद सीतापुर की संयुक्त बैठक का आयोजन* 



सरोजिनी वाटिका पार्क में  राम चंद्र मिश्र जिला अध्यक्ष की अध्यक्षता जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ जनपद सीतापुर की संपन्न हुआ। जिसमें सभी ब्लॉकों के -अध्यक्ष व मंत्री गण तथा जनपदीय कार्यकारिणी के- पदाधिकारी गण एवं मंडलीय  अध्यक्ष -श्री अपूर्व दीक्षित एवं प्रांतीय प्रवक्ता -श्री मनीष पांडेय  उपस्थित रहे।*
*कोरोना कॉल के लंबे समय से सक्रियता कम रह पाने के कारण ,संगठन की बैठक काफी दिनों के बाद आज -गरमा गरम माहौल मेंआयोजित हुई । जिसमें सभी ब्लॉक के पदाधिकारियों ने अपने-अपने ब्लॉक की समस्याओं को उजागर किया।*
 *ब्लॉक परसेंडी के मंत्री -श्री हारून ने अपने ब्लॉक में खंड शिक्षा अधिकारी महोदय की ज्यादती की जानकारी दी और बताया कि वह प्रातः 9:05 पर एवं अपरान्ह 2:55 पर जानबूझकर इसलिए निरीक्षण करते हैं कि शिक्षकों को प्रताड़ित किया जा सके।*

*जनपदीय महामंत्री रणविजय सिंह ने कहा की जनपद सीतापुर की अच्छी छवि को धूमिल करने वाले किसी भी अधिकारी को बख्शा नहीं जाएगा क्योंकि शिक्षा महानिदेशक के निर्देशानुसार -खंड शिक्षा अधिकारी , ए आर पी , एस आर जी -सभी का सम्मिलित कार्य - शिक्षण व्यवस्था को उन्नत बनाना है । यदि ऐसे अधिकारी गण निरीक्षण कर के शिक्षकों को अनर्गल रूप से अपना शिकार बनाना चाहेंगे तो उन्हें संगठन बर्दाश्त नहीं करेगा और उसका मुंहतोड़ जवाब उन्हें तुरंत दिया जाएगा।  उन्होंने कहा, संगठन सभी शिक्षकों को विश्वास दिलाता है - कोई भी शिक्षक , किसी भी अधिकारी से भयभीत ना हो -यह संगठन की जिम्मेदारी है कि शिक्षक पर किसी भी प्रकार की ज्यादती होने पर ,संबंधित अधिकारी को उसका मुंहतोड़ जवाब देने में संगठन पूर्णतया सक्षम है।*

*संगठन पदाधिकारियों ने यह भी जानकारी दी, कि एकेडमिक सपोर्ट के लिए नियुक्त किए गए शिक्षकों में से ही-  ए आर पी एवं एस आर जी आदि के द्वारा ,विद्यालयों में निरीक्षण किया जा रहा है जो एकेडमिक सपोर्ट कम तथा अनुशासनात्मक निरीक्षण  का दिखावा ज्यादा करते हैं । मंडल अध्यक्ष महोदय ने- कड़ाई से स्पष्ट किया कि इन को निरीक्षण मत करने दें ,उन्हें आते ही विद्यालय में कक्षाओं में पाठ पढ़ाने को कहें।  क्योंकि उनकी नियुक्ति ,एकेडमिक सपोर्ट अर्थात शिक्षण पद्धति को उन्नत बनाने के लिए है । अगर वह ऐसा नहीं करते तो तत्काल इसकी सूचना मुझे दें । ऐसे ए आर पी , एस आर जी , के खिलाफ तत्काल BSA व एसपीडी महोदय को अवगत करा कर, कड़ी कार्यवाही मै करवाऊंगा।*

*अध्यक्ष -महोली एवं जनपद उपाध्यक्ष- लक्ष्मी नारायण गुप्ता ने अधिकारियों की कार्यशैली पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए अवगत कराया कि खंड शिक्षा अधिकारी, केवल प्रशासनिक अधिकारी ही नहीं बल्कि बीआरसी समन्वयक भी हैं ,अतः उन्हें निरीक्षण के दौरान -अनुशासनात्मक निरीक्षण कम करना चाहिए और एकेडमी निरीक्षण पर अधिक ध्यान देना चाहिए । लेकिन वास्तव में ऐसा हो नहीं रहा है जो शिक्षक हित व छात्र हित में नहीं है।*

 *ब्लॉक अध्यक्ष व मंत्रियों के द्वारा ब्लॉक में भ्रष्टाचार ,उत्पीड़न एवं अधिकारियों द्वारा शोषण की जानकारी देने पर मंडलीय अध्यक्ष श्री अपूर्व दीक्षित द्वारा -एडी बेसिक,  एसपीडी एवं शिक्षा निदेशक सहित शिक्षा महानिदेशक से तत्काल कार्यवाही कराने का आश्वासन दिया और बताया कि इस समय विद्यालयों में बच्चे नहीं हैं इसलिए विद्यालय खोलने की नियत समय पर निरीक्षण करने का अर्थ है- शिक्षकों का शोषण करना ।अगर कोई अधिकारी ऐसा करता है तो उसके खिलाफ तत्काल कठोर कार्यवाही की जाएगी । इसलिए सभी ब्लॉक के अध्यक्ष एवं मंत्री अपने ब्लॉक के शिक्षकों को अवगत करा दें कि उन्हें डरने की कोई जरूरत नहीं।*

*ए आर पी , एस आर जी -का कार्य  विद्यालयों में जाकर ,पढ़ाने में आने वाली असुविधा को दूर करना है अर्थात उन्हें विद्यालय में कक्षाओं में जाकर पढ़ाना है। इसके अतिरिक्त अगर वह निरीक्षण जैसा करते हैं तो उन पर तत्काल कठोर कार्यवाही कराई जाएगी ।* 

*मंडलीय अध्यक्ष महोदय द्वारा यह भी स्पष्ट किया गया कि ऐसे ARP एवं SRG, जो जूनियर की टी ई टी , उत्तीर्ण नहीं है उन्हें जूनियर की कक्षाओं में जाकर विद्यालयों में पढ़ाने का अधिकार ही नहीं है क्योंकि वह इसके लिए पूर्णतः अयोग्य हैं।*

*जिला अध्यक्ष महोदय ने स्पष्ट किया कि जिन शिक्षकों को ए आर पी एवं एस आर जी - के कार्यों हेतु नियुक्त किया गया है उनकी हाजिरी कहां लगती है ?*
*अर्थात उनकी हाजिरी न तो विद्यालय में ही लग रही है और न ही किसी ऑफिस में?*.....
 *अतः ऐसे लोगों की हाजिरी -खंड शिक्षा अधिकारी के द्वारा प्रमाणित करते हुए उनके नियुक्त विद्यालय में प्रधानाध्यापक के पास भेजी जाए , तब प्रधानाध्यापक उस ARP  एवं SRG को पावना में प्रमाणित करके भेजें अन्यथा उन्हें रोक दें।*

*प्रांतीय प्रवक्ता श्री मनीष पांडे ने कहा कि सभी ब्लॉक के अध्यक्ष एवं मंत्री ,अपने ब्लाक में विद्यालयों का भ्रमण करें तथा सदस्यता शुल्क एकत्रित करें और प्रत्येक शिक्षक की होने वाली किसी भी परेशानी से जिला संघ को अवगत कराएं । जिले स्तर पर यदि समस्याओं का निस्तारण तत्काल नहीं होता तो उसकी जिम्मेवारी - मंडलीय व प्रांतीय संगठन की है ।उसे  शिक्षा निदेशक,  शिक्षा महानिदेशक एवं सचिव महोदय से मिलकर तुरंत हल किया जाएगा।  किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार एवं उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं होगा और इसकी लिखित शिकायत शिक्षा महानिदेशक से की जाएगी और कार्यवाही करवाई जाएगी।*

*बैठक में - मंडली य  पदाधिकारी बहन कविता जयंत ,ने संगठन की सक्रियता बढ़ाने हेतु प्रेरित किया एवं ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों एवं ए आर पी,  एस आर जी के द्वारा किसी भी प्रकार के उत्पीड़न की स्थिति उत्पन्न करने पर -मंडल को अवगत कराने के लिए कहा।*
*बैठक में पूर्ण रूप से ,कोरोना के  कम प्रभाव को देखते हुए- शिक्षक पदाधिकारियों द्वारा ,अपने इलाकों में भ्रमण करने, मुलाकात करने , समस्याएं एकत्रित करने आ दि  के लिए प्रेरित किया और  समस्याओं को जिला स्तर पर , मंडल स्तर पर एवं प्रदेश स्तर पर निस्तारण के लिए अपनी जिम्मेदारी बताते हुए आश्वासन दिया।*
*आज की बैठक में मुख्य रूप से मंडलीय अध्यक्ष श्री अपूर्व दीक्षित , प्रांतीय प्रवक्ता श्री मनीष पांडे ,  जिला अध्यक्ष श्री रामचंद्र मिश्र , महामंत्री श्री रणविजय सिंह यादव,  कोषाध्यक्ष श्री बच्चन खां,  मंडली य पदाधिकारी बहन कविता जयंत , जनपदीय पदाधिकारी श्रीमती मुन्नी देवी, लक्ष्मी नारायण गुप्ता, रमा शंकर अवस्थी, पंकज त्रिवेदी ,पंकज अवस्थी, सुरेंद्र श्रीवास्तव, राजेश विश्वकर्मा, अशोक तिवारी ,कृष्ण कुमार मौर्य, सुंदरलाल ,रजनीश वर्मा, प्रेम कुमार ,दुर्गेश सिंह ,सुबोध शर्मा ,संदीप कुमार ,चंद्रभान वर्मा ,डॉक्टर मेराज अहमद, रईस अहमद ,मोहम्मद हारुन ,सतेंद्र शुक्ला, डॉक्टर मुस्तफा अली, मनोज मिश्रा , नरेश मिश्रा, जहीर आलम ,अनुपम राही एवं अन्य पदाधिकारी गण व शिक्षक उपस्थित रहे।*

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad