लोइंगा में आस पर गुजरे 7 दशक, लाइन जली नहीं पर 350 लोगों को थमा दिया बिल - Ideal India News

Post Top Ad

लोइंगा में आस पर गुजरे 7 दशक, लाइन जली नहीं पर 350 लोगों को थमा दिया बिल

Share This
#IIN
श्रवण सेठी
 मेदिनीनगर (झारखंड) 
लोइंगा में आस पर गुजरे 7 दशक, लाइन जली नहीं पर 350 लोगों को थमा दिया बिल



विभाग की लापरवाही से परेशान हैं लोग, एक ही ग्रामीण को दो-दो बकाया बिल



पलामू जिले के बिजली विभाग की अदूरदर्शी नीति का खामियाजा पाटन प्रखंड के लोइंगा पंचायत के लोइंगा गांव के ग्रामीण भुगता रहे हैं। बिजली विभाग ने यहां के लोगों को बगैर बिजली जलाए ही बिजली बिल थमा दिया है। इसमें करीब 500 घर हैं, इसमें 350 लोगों को बिल मिला है। हद तो तब हो गई जब इस गांव के एक व्यक्ति के नाम से दो-दो बिजली आ गया। एक बिल में बकाया 7000 रुपए दर्शाया गया है तो दूसरे बिल में उसी व्यक्ति का बकाया 725 रुपए दर्शाया गया है, जिससे ग्रामीण भी असमंजस में है।
यह हाल गांव के 75 प्रतिशत कनेक्शनधारियों का है। इस संबंध में गांव के बिजली कनेक्शनधारी उस्मान अंसारी, अर्जुन मिस्त्री, सत्येंद्र शाह, सुरेंद्र शाह, बंधु ठाकुर, बसंत राम तौहिद अंसारी, सलीम मियां, सुकन, रामस्वरूप शर्मा, जयश्री मिस्त्री, ललिता देवी, छठन मियां, सुग्रीम शर्मा, महेंद्र, सुनैना देवी, सलीमुद्दीन मियां, विनोद शर्मा समेत अन्य ने ‘दैनिक भास्कर’ को बताया कि आजादी के बाद से आज तक गांव में बिजली नहीं थी।
करीब तीन वर्ष पूर्व लोइंगा गांव में बिजली विभाग द्वारा विद्युतीकरण का कार्य कराया गया था। गांव में बिजली पोल, तार, ट्रांसफार्मर व लोगों के घरों में मीटर भी लगा। यह सब देखकर ग्रामीणों में खुश थे कि अब हमारा गांव-घर बिजली से जगमगाएगा, लेकिन तीन साल बाद बगैर बिजली जलाए बिल आने से ग्रामीणों की खुशी काफूर हो गई।
टूट रहा ‘डिजिटल इंडिया’ का ख्वाब
लोइंगा पंचायत के बहेरवाटांड़ टोला में केंद्र सरकार का ‘डिजिटल इंडिया’ का ख्वाब टूटता नजर आ रहा है। यहां के बिजली कनेक्शनधारी बनवारी भुइयां, शैलेंद्र भुइयां, बीरबल भुइयां, गंगा भुइयां, प्यारी भुइयां समेत नौ लोगों ने बताया कि देश की आजादी के 73 साल गुजरने के बाद भी बिजली के दर्शन तक नहीं हुए हैं।
लोगों को अब हेमंत सरकार से उम्मीद
लोइंगा पंचायत के लोइंगा गांव और बहेरवाटांड़ टोला के ग्रामीणों ने कहा पूर्व सीएम रघुवर दास की घोषणा फाइलों तक ही सिमटकर रह गई। वर्तमान में झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार बनी है। इस सरकार से भी हमारी उम्मीदें जुड़ी हैं। अब देखना यह है कि हेमंत सरकार में भी हमारी समस्या दूर होती है या नहीं।
मामले की जानकारी नहीं
जिस कंपनी द्वारा विद्युतीकरण कार्य किया गया है, उसके द्वारा अनियमितता बरती गई है। मुझे इस मामले की जानकारी नहीं थी। इस मामले में मैंने अपने वरीय पदाधिकारियों से मार्गदर्शन मांगा है। मार्गदर्शन मिलने पर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad