भाजपा ने कृषि बिल नहीं, अपना ‘पतन-पत्र’ पारित कराया-सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव - Ideal India News

Post Top Ad

भाजपा ने कृषि बिल नहीं, अपना ‘पतन-पत्र’ पारित कराया-सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव

Share This
#IIN





लखनऊ

अभूतपूर्व हंगामे और विपक्ष के भारी विरोध के बीच केंद्र सरकार ने रविवार को कृषि सुधारों से जुड़े दोनों विधेयकों को राज्यसभा से ध्वनिमत से पारित करा लिया। कृषि विधेयकों को किसान विरोधी करार देते हुए समाजवादी पार्टी (एसपी) ने राज्यसभा में विधेयक पारित कराए जाने की निंदा की है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि लोकतांत्रिक कपट कर भाजपा ने कृषि बिल नहीं, अपना ‘पतन-पत्र’ पारित कराया है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को ट्वीट कर कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने कृषि बिल पारित कराने के लिए ‘ध्वनि मत’ की आड़ में राज्यसभा में किसानों और विपक्ष की आवाज का गला दबाया है। सरकार ने अपने कुछ चुनिंदा पूंजीपतियों और धन्नासेठों के लिए भारत की दो तिहाई जनसंख्या को धोखा दिया है। लोकतांत्रिक कपट कर भाजपा ने कृषि बिल नहीं, अपना ‘पतन-पत्र’ पारित कराया है।

बता दें कि रविवार को अभूतपूर्व हंगामे और विपक्ष के भारी विरोध के बीच केंद्र सरकार ने कृषि सुधारों से जुड़े दोनों विधेयकों को राज्यसभा से ध्वनिमत से पारित करा लिया। इस दौरान संसदीय मर्यादाओं की धज्जियां उड़ाई गई। तृणमूल समेत कई विपक्षी सांसदों ने विरोध के दौरान आसन की माइक तोड़ने से लेकर रूल बुक फाड़ कर हवा में उछालने तक से गुरेज नहीं किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधेयकों को पारित कराए जाने को देश के कृषि इतिहास का ऐतिहासिक दिन बताते हुए कहा कि इससे किसान सशक्त होंगे और कृषि क्षेत्र में आमूल-चूल बदलाव आएगा। वहीं, विपक्ष ने विधेयकों को पारित कराने के तरीके पर सवाल उठाते हुए इसे लोकतंत्र और संविधान के साथ छल करार दिया और स्थगित होने के बाद भी सदन में धरना देते हुए विरोध प्रदर्शन किया।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad