आठ जोड़ी ट्रेनों का आज से संचालन शुरू - Ideal India News

Post Top Ad

आठ जोड़ी ट्रेनों का आज से संचालन शुरू

Share This
#IIN





Dr. Shashank Shekhar Mishra

लखनऊ

 महीनों से बंद शताब्दी, एसी एक्सप्रेस समेत आठ जोड़ी ट्रेनों का संचालन एक बार फिर आज से शुरू हो रहा है। रेलवे प्रशासन ने जहां 12 सितंबर से शुरू हो रही ट्रेनों को लेकर अपनी तैयारियां पूरी  कर ली है, वहीं  एक  बार फिर से यार्ड में ट्रेनों की धुलाई की गई और सैनिटाइजेशन किया गया। परिचालन से जुडे अधिकारियों ने बताया कि  प्लेटफार्म  पर ट्रेन लगने से पहले भी सैनिटाइज की जाएगी और यात्रियों को जागरूक करने के लिए कर्मचारी लगाए गए हैं। 

रेलवे प्रशासन के मुताबिक करीब पांच माह से खड़ी ट्रेनों की सफाई कई दिन पहले से शुरू कर दी गई थी। वहीं शुक्रवार को तत्काल कोटे में यात्रियों ने शताब्दी एक्सप्रेस में चेयर कार की सीटें बुक कराई। यात्रा से पहले मुसाफिरों को खासी सावधानी बरतनी होगी और 90 मिनट पहले रेलवे स्टेशन पहुंचना होगा। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते रेलवे प्रशासन ने मार्च से लखनऊ से दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस और लखनऊ मेल के बाद वीआइपी ट्रेनों में एसी एक्सप्रेस का संचालन बंद कर दिया था। यात्री लगातार इन ट्रेनों को चलाने की डिमांड कर रहे थे। इसी बीच हाल ही में रेलवे ने 80 ट्रेनों को 12 सितंबर से चलाने का फैसला किया,  इसके चलते लखनऊ से एसी स्पेशल, शताब्दी, हमसफर, अवध आसाम जैसी ट्रेनें भी पटरी पर लौट रही हैं।

12 सितंबर से चलने वाली ट्रेनों में तत्काल टिकट की बुकिंग के लिए शुक्रवार को आरक्षण केंद्र यात्री पहुंचे। कई यात्रियों को टिकट मिल गए लेकिन ऐसे भी कई यात्री थे, जिन्हें कंफर्म टिकट नहीं मिला। ऑनलाइन टिकट की बुकिंग ज्यादा हुई। वहीं दूसरी तरफ रेलवे प्रशासन की ओर से शताब्दी और ऐसी एक्सप्रेस की शंटिंग करके संचालन भी देखा गया। रेलवे के वाणिज्य अफसरों ने बताया कि 

लखनऊ से दिल्ली जाने वाले यात्रियों के लिए अभी से गोमती और लखनऊ मेल का ही सहारा था। वही शनिवार से एसी एक्सप्रेस शताब्दी एक्सप्रेस और हमसफर का संचालन भी शुरू हो रहा है। लखनऊ से दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस की चेयर कार में 125 और इजीक्यूटिव क्लास में बारह सीटें तत्काल की थी। वहीं अनुभूति कोच में वेटिंग चल रही थी। ऐसे ही डिब्रूगढ़ नई दिल्ली एक्सप्रेस की स्लीपर बोगी में 120, तृतीय वातानुकूलित श्रेणी में 33, द्वितीय वातानुकूलित श्रेणी में 16 बर्थ थी। इसी तरह एसी एक्सप्रेस की तृतीय वातानुकूलित श्रेणी में 241, द्वितीय वातानुकूलित श्रेणी में 96 और लखनऊ मेल के स्लीपर में 46, तृतीय वातानुकूलित में 44  और द्वितीय वातानुकूलित में 25 बर्थ तत्काल कोटे में थी, यह सभी आरक्षित हो गई। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad