आम आदमी पार्टी ने राज्य सभा में जबरन बिल पास कराने का किया विरोध - Ideal India News

Post Top Ad

आम आदमी पार्टी ने राज्य सभा में जबरन बिल पास कराने का किया विरोध

Share This
#IIN
धर्मेन्द्र सेठ


जौनपुर:आम आदमी पार्टी ने राज्य सभा में  जबरन बिल पास कराने का किया विरोध
जौनपुर
श्री नारायण सिंह मुन्ना वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष जौनपुर के नेतृत्व में आज आप पार्टी ने जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया और किसानों के हितों के खिलाफ  संख्या कम होने के बावजूद बिना वोटिंग के जबरन राज्यसभा द्वारा पारित बिल को वापस लेने के संबंध में एक ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट सदैव मिश्रा को राष्ट्रपति महोदय के नाम सौंपा
इस मौके पर मुन्ना सिंह ने कहा कि कल भारतीय संसद में असंवैधानिक तरीके से पारित एग्रीकल्चर ऑर्डिनेंस (कृषि अध्यादेश) से जय जवान और जय किसान के नारा लगाने वाले देश में किसानों की बदहाली मे एक औ र काला अध्याय जोड़ने का काम केंद्र में बैठी भाजपा सरकार के द्वारा किया गया है | केंद्र में बैठी भारतीय जनता पार्टी की सरकार को किसानों की कोई चिंता नही है एमएसपी ऑर्डिनेंस बिल उसका जीता जागता प्रमाण है।
कृषि सेक्टर को प्राइवेट हाथों में देने के लिए यह बिल लाया गया है, इससे एमएसपी खत्म हो जाएगी
एग्रीकल्चर ऑर्डिनेंस (कृषि अध्यादेश) को लेकर केंद्र सरकार द्वारा कहा गया कि किसानों के लिए यह एक क्रांतिकारी बिल है, लेकिन सच यह है कि कृषि जो हमारा देश की धरा है, 80 प्रतिशत लोग जो गांव में रहते हैं वो कृषि पर निर्भर हैं, उसको प्राइवेट हाथों में देने के लिए यह बिल लाया गया है। इस बिल की वजह से धान और गेहूं की एमएसपी खत्म हो जाएगी। बिल में प्राइवेट कंपनियों को खुली छूट दे दी गई है कि आप आइए और कृषि क्षेत्र को अपने कब्जे में ले लीजिए।  किसानों से खेती को भी छीना जा रहा है।
इस बिल के पास होने से बड़े-बड़े पूंजिपतियों को कृषि क्षेत्र में आने का मौका मिलेगा। 10-20 एकड़ जमीन के क्लस्टर बनेंगे और पूंजीपति कहीं से भी फसल खरीद कर, देश में कहीं भी उसका भंडार (स्टोर) कर सकेंगे।
इस बिल के अनुसार अब किसी भी जरूरी वस्तु को कहीं भी इकट्ठा किया जा सकता है। जरूरी वस्तुओं का जितना चाहे उतना भंडार किया जा सकता है और जब मन चाहे उसे बेचा जा सकता है।
उन्होंने कहा की आम आदमी पार्टी मांग करती है कि उघोगपतियों को फायदा पहुँचाने के उद्देश्य से संसद मे पारित किसान विरोधी बिल को वापस लिया जाए अन्यथा आप पूरे देश भर मे किसान भाईयो के साथ मिलकर सड़को पर संघर्ष करेगी ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad