कोरोना से वरिष्ठ नागरिकों को बचाने के लिए परीक्षण जारी - Ideal India News

Post Top Ad

कोरोना से वरिष्ठ नागरिकों को बचाने के लिए परीक्षण जारी

Share This
#IIN



Mayank Jha and Anil Gupta


मुंबई

 कोरोना महामारी से बुजुर्गों को बचाने के लिए बीसीजी टीके पर परीक्षण चल रहा है। इसके तहत मुंबई में अब तक 24 बुजुर्गों को बीसीजी का टीका लगाया गया है। परीक्षण के लिए चयनित केंद्रों में से एक परेल स्थित केईएम हॉस्पिटल में इन लोगों को टीका लगाया गया है। टीबी यानी क्षय रोग से बचाव के लिए

भारत में बच्चों को बीसीजी (बेसिल कैलमेट-गुएरिन) का टीका लगाया जाता है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) द्वारा इस टीके का 60-75 साल के लोगों पर परीक्षण किया जा रहा है। यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में यह टीका कितना कारगर साबित हो रहा है। इसके तहत 250 बुजुर्गो को बीसीजी की एक खुराक दी जानी है।

केईएम हॉस्पिटल में बीसीजी टीकाकरण की देखरेख करने वाली डॉ. रुजुता हदये ने कहा कि चूंकि कोरोना संक्रमण से 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों की मृत्युदर अधिक है, इसलिए यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि क्या बीसीजी का टीका कोरोना वायरस को रोकने में कामयाब है। केईएम अस्पताल में 21 अगस्त से यह परीक्षण चल रहा है। उन्होंने बताया कि अभी तक जिन 24 लोगों टीका लगाया है, उनमें किसी तरह का विपरीत प्रभाव देखने को नहीं मिला है। ये लोग कोरोना से भी संक्रमित नहीं हुए हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad