आरोग्य भारती काशी प्रान्त सूचना पटल - Ideal India News

Post Top Ad

आरोग्य भारती काशी प्रान्त सूचना पटल

Share This
#IIN
*आरोग्य भारती काशी प्रान्त सूचना पटल* 📰



कोविड-19 के बचाव व चिकित्सकीय परामर्श हेतु एवं यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में सेवा सप्ताह के अवसर पर आज दिनांक 14/09/2020 को आरोग्य भारती काशी प्रांत द्वारा *निःशुल्क ऑनलाइन आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक एवं एलोपैथिक चिकित्सकीय परामर्श* सुविधा का शुभारंभ, *जिलाधिकारी* वाराणसी श्री कौशल राज शर्मा जी व *मंडलायुक्त* वाराणसी श्री दीपक अग्रवाल जी के कर कमलों द्वारा किया गया ।

 कार्यक्रम का आरंभ धन्वन्तरि वंदन (डॉ विपुल जी), मुख्य अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन व उन्हें पुष्प गुच्छ भेंट से हुआ। डॉ ध्रुव अग्रहरि ने आरोग्य भारती के लक्ष्यों व आयामों का संक्षेप में वर्णन किया। तदुपरांत, प्रान्त अध्यक्ष डॉ इन्द्रनील बसु ने मुख्य अतिथिद्वयों को काशी प्रान्त द्वारा कोरोना काल में किये गए सेवा कार्यों का वृत्त दिया व टेली-परामर्श सेवा की प्रक्रिया की जानकारी की। अपने उद्बोधनों में जिलाधिकारी व मंडलायुक्त महोदयों ने इस सेवा के लिए आरोग्य भारती काशी प्रान्त का आभार व्यक्त किया व परियोजना की सफलता के लिए हर संभव सहयोग का आश्वासन भी दिया। प्रान्त के सह संगठन मंत्री डॉ मनीष त्रिपाठी ने कार्यक्रम के संयोजन में विशेष भूमिका निभाई व धन्यवाद ज्ञापन किया। प्रान्त सह-सचिव डॉ मीनाक्षी ने कार्यक्रम का कुशल संचालन किया। कार्यक्रम का समापन प्रान्त कोषाध्यक्ष डॉ विपुल नारायण सिंह ने शांतिपाठ से किया।

आरोग्य भारती काशी प्रान्त के डॉ अरुण श्रीवास्तव, श्री कपिल नारायण पांडेय, डॉ प्रीति गुप्ता, डॉ अतुल्य रतन , डॉ सुभाष श्रीवास्तव , डॉ रुद्रेश्वर त्रिपाठी आदि भी उपस्थित रहे। सरस्वती विद्या मंदिर में आयोजित इस कार्यक्रम में विद्यालय के संरक्षक श्री छोटेलाल जी को विद्यालय के शिक्षकों के लिए जिलाधिकारी महोदय द्वारा होम्योपैथिक दवाएं प्रदान की गई। 15 फलदार वृक्ष (सदस्य श्री पंकज तिवारी के सौजन्य से) भी विद्यालय को आवंटित किए गए।

कल से टेली-परामर्श सेवा का प्रारंभ हो जाएगा। 10:00 से 12:00 बजे प्रातः व 5:00 से 7:00 बजे सायं यह सेवा उपलब्ध रहेगी।
🙏🏻
- डॉ इन्द्रनील बसु
अध्यक्ष, आरोग्य भारती काशी प्रान्त
यह सूचना लिखित रूप में डा सुभाष श्रीवास्तव विश्व आयुर्वेद परिषद  ने दिया है।
डा उदय शंकर भगत वाराणसी पत्रकार

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad