*खरका तिराहा गोली काण्ड में 11 लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज , जाँच सीओ सिटी को* - Ideal India News

Post Top Ad

*खरका तिराहा गोली काण्ड में 11 लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज , जाँच सीओ सिटी को*

Share This
#IIN
डा आर पी विश्वकर्मा जौनपुर
*खरका तिराहा गोली काण्ड में 11 लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज , जाँच सीओ सिटी को*
 

जौनपुर।  टीडी कालेज के छात्रसंघ की चुनावी रंजिश को लेकर बुधवार की देर शाम खरका तिराहे पर हुई गोलीबारी के मामले में लाइन बाजार पुलिस ने छात्रों के दोनों गुटों की तहरीर पर एक-दूसरे के विरुद्ध हत्या के प्रयास व बलवा समेत कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। इनमें 11 नामजद व कई आरोपित अज्ञात हैं। गोलीबारी में दोनों गुट के एक-एक छात्र पैर में गोली लगने से घायल हो गए हैं। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस संभावित स्थानों पर ताबड़तोड़ दबिश दे रही है।
 करीब तीन महीने पहले मियांपुर में विशाल सिंह पर हुई हर्षिंत सिंह गुट की फायरिग ने दोनों गुटों के बीच चुनावी रंजिश में आग में घी का काम किया। तभी से दोनों गुट एक-दूसरे पर हमला करने की ताक में थे। लाइन बाजार पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया, जिसकी परिणति खरका तिराहे पर दोनों गुटों के बीच फायरिग व पत्थरबाजी के रूप में हुई। हर्षित सिंह के समर्थक कृपा शंकर यादव निवासी कदम रसूल के दोनों पैर में गोलियां लगीं जबकि दूसरे पक्ष के अभिषेक राय उर्फ प्रिसू निवासी सरैंया थाना जफराबाद के एक पैर में। हर्षित सिंह की स्कार्पियो भी क्षतिग्रस्त हो गई। जिला अस्पताल में भी दोनों गुटों के बीच टकराव की स्थिति बन गई। इसके चलते अस्पताल से भंडारी पुलिस चौकी तक आधी रात के बाद तक पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात रही।
गुरुवार को पुलिस ने कृपा शंकर यादव के पिता जिला अस्पताल में वार्ड ब्वाय अजय यादव की तहरीर पर छह व अभिषेक राय के चाचा रविकांत राय की तहरीर पर पांच नामजद और अन्य तमाम अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया। थाना प्रभारी निरीक्षक जय प्रकाश सिंह ने बताया कि अज्ञात आरोपितों में से दोनों पक्षों के पांच हिरासत में लिए गए हैं। अन्य आरोपितों की तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है। एसपी ने सीओ सिटी को सौंपी जांच नवागत पुलिस अधीक्षक राज करन नय्यर ने इस घटना को बहुत गंभीरता से लिया है। उन्होंने लाइन बाजार थाना प्रभारी निरीक्षक को फटकार लगाने के साथ ही कड़ी चेतावनी दी है। पूरे मामले की जांच सीओ सिटी अंकित कुमार को सौंप दी है। जांच का बिदु यह भी होगा कि अभिषेक राय को गोली कैसे लगी। उनसे तीन दिन में रिपोर्ट देने को कहा है। उसी आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad