पुलिस की आड़ में फलफूल रहा अवैध मछली मंडी वर्षो से चल रही अवैध मछली मंडी में भीड़ भाड़ से कोरोना वायरस का खतरा - Ideal India News

Post Top Ad

पुलिस की आड़ में फलफूल रहा अवैध मछली मंडी वर्षो से चल रही अवैध मछली मंडी में भीड़ भाड़ से कोरोना वायरस का खतरा

Share This
#IIN




Pintu Kundu And Dr.U.S. Bhagat 

वाराणसी
 चेतगंज थाना अंतर्गत नाटी इमली चौकी में पड़ने वाली चौकाघाट की अवैध मछली मंडी में लगने वाली भीड़ से कोरोना वायरस का खतरा मंडरा रहा है । अवैध लगने वाली मछली मंडी में अत्यधिक भीड़ के कारण सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं । कोरोना के संक्रमण के खतरे को ताक पर रखकर लोग मछलियों की खरीदारी करते है । अवैध मछली मंडी में सुबह सात बजे से दस बजे तक लोगों की भीड़ जुटी रहती है । इस मंडी में शाम चार बजे से छह बजे तक भीड़भाड़ देखी जा सकती है । चेतगंज थाना क्षेत्र के नाटीइमली चौकी अंतर्गत चौकाघाट इलाके में अवैध मछली मंडी के चलते सड़को पर बेतरतीब वाहनों को खड़ा कर लोग मछली खरीददारी करने में मशगूल रहे लोग । जिससे मछली मंडी से कोरोना वायरस फैलने की आशंका रहती है । पुलिस व नगर निगम की ओर से रोकटोक नहीं होने से मछली व्यवसायी कोरोना को लेकर किए जाने से इंतजामों का पालन नहीं कर रहे है । सैनेटाइजर तो दूर , वे मास्क तक का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं । इसके कारण पास रहने वाले लोग सहमे रहते हैं । इलाके में ही रहने वाले क्षेत्रीय लोगो ने बताया कि सोमवार, बुधवार, शुक्रवार के अलावा शनिवार व रविवार को मंडी में अत्यधिक भीड़ लगी रहती है । जिससे फुटपाथ के अलावा आधी सड़क पर गाड़िया भी बेतरतीब खड़ा कर लोग मछली खरीददारी करने चले जाते है जिससे सड़को पर जाम की भी समस्या उत्पन्न हो जाती है । पसंद की मछली लेने के लिए मंडी में एक साथ दर्जनभर लोग एक दूसरे के बेहद करीब खड़े रहते हैं । मंडी के पास गंदगी व दुर्गंध से परेशानी व सफाई नहीं होने से मछली मंडी व आसपास के इलाकों में गंदगी फैली रहती है । जिसे दुकानदारों द्वारा पास के ही नदी में सारे गंदगी को बहा दिया जाता है । जिसके कारण राहगीरों व स्थानीय लोगों को दुर्गंध से परेशानी होती है । गंदगी के लिए मछली व्यवसायी नगर निगम को जिम्मेवार ठहराते हैं । जबकि पास के लोगो का कहना है कि मछली बेचने वाले किसी व्यवसायी के पास लाइसेंस भी नही है फिर भी यहां ये अपने व्यवसाय को बढ़ावा दे रक्खे है प्रतिदिन यहां मछली बेचने वाले दुकानदारों द्वारा चौकी थाना के सिपाहियों को मिलाकर प्रतिदिन के हिसाब से तय किये गए रुपयों के आधार पर दुकानों को लगाने की अनुमति मिलती है इन सबके पीछे क्षेत्रीय थाना चौकी का सहयोग है ।जिनकी आड़ में इनका धंधा फल फूल रहा है ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad