हार्ट अटैक में कोलेस्ट्रॉल वृद्धि मुख्य कारण होता है - Ideal India News

Post Top Ad

हार्ट अटैक में कोलेस्ट्रॉल वृद्धि मुख्य कारण होता है

Share This
#IIN


डॉ एस के गुप्ता
गाजीपुर
अनाज, दालों हरी पत्ते वाली एवं अन्य सब्जियों तथा शक्कर गुड़ शहद, फलों आदि से मिलने वाला कार्बोहाइड्रेट शरीर में शक्ति एवं स्फूर्ति का संचार करते हैं लेकिन जब शरीर में यह ज्यादा मात्रा में पहुंच जाते हैं तब यह अतिरिक्त मात्रा मोटापा पैदा कर देते हैं कार्बोहाइड्रेट की अतिरिक्त मात्रा हृदय की रक्त धमनियों में जमा होकर रक्त संचार में बाधा उत्पन्न करके हृदय रोग एनजाइना एवं उच्च रक्तचाप जैसी घातक बीमारियां पैदा कर देते हैं भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति को प्रतिदिन 20 ग्राम वसा का सेवन करना चाहिए इससे अधिक वसा का सेवन हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक होता है डॉ एस के गुप्ता के अनुसार कोलेस्ट्रॉल बहुत खराब चीज नहीं है, शरीर निर्माण में इसकी बहुत आवश्यकता होती है कोलेस्ट्रॉल के बगैर पुरुषत्व और नारीत्व संबंधी हार्मोन नहीं बनते हैं, बच्चों में रक्त में मौजूद कोलेस्ट्रॉल कोशिका निर्माण में काम आता है और इस उम्र में आवश्यक होता है व्यक्ति वयस्क हो जाने पर कोशिका का निर्माण कम हो जाता है और इसलिए शरीर में अतिरिक्त कॉलेज स्टाल नसों में जमा होने लगते हैं जिससे रक्त प्रवाह में रुकावट होती है कोलेस्ट्रॉल हृदय की धमनियों के अतिरिक्त मस्तिष्क, किडनी हाथ पैर तथा शरीर के अन्य अंगों की रक्त धमनियों में जमा होकर रक्त प्रवाह अवरोधित कर देते हैंहृदय की धमनियों में जमा होने से हार्ट अटैक हो जाता है

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad