आधुनिक एकलव्य शिवांक ने योगासन में रिकॉर्ड बना कर जिले का नाम किया रौशन* - Ideal India News

Post Top Ad

आधुनिक एकलव्य शिवांक ने योगासन में रिकॉर्ड बना कर जिले का नाम किया रौशन*

Share This
#IIN
*आधुनिक एकलव्य शिवांक ने योगासन में रिकॉर्ड बना कर जिले का नाम किया रौशन*



*शिवांक ने बिना किसी गुरु के वीडियो देख सीखा है योग*

सीतापुर-          शरद कपूर
कोई काम नहीं है मुश्किल जब किया इरादा पक्का....... इस पुराने गाने को चरितार्थ कर दिखाया है जनपद के अटरिया क्षेत्र के एक छोटे से गाँव नीलगांव निवासी चंद्रकिशोर अवस्थी के 25 वर्षीय पुत्र शिवांक ने जिन्होंने बिना किसी गुरु के वगैर कोई योगा ट्रेनिंग के मात्र अपनी लगन और कड़ी मेहनत के बल पर योगगुरू बाबा रामदेव के योग के वीडियो अपने मोबाइल फोन पर देख-देख कर निरंतर अभ्यास किया और मात्र 6 वर्ष में वो कर दिखाया, जिस ikकी लोग केवल कल्पना ही कर सकते हैं | शिवांक ने योगासन के पुराने रिकार्ड को ध्वस्त करते हुए नया रिकार्ड बना डाला | शिवांक की इस अनूठी उपलब्धि पर जहां उनके परिजन व क्षेत्रवासियों में खुशी है, वहीं शिवांक ने संपूर्ण भारत में सीतापुर जनपद का नाम भी रौशन किया है |
             अपनी अनूठी प्रतिभा के धनी शिवांक पुत्र चंद्रकिशोर अवस्थी ने सीमित संसाधनों के बीच अपने शौक योग का निरंतर और पूरी तन्मयता से अभ्यास किया जिसका परिणाम आज सामने आ चुका है | इस दौरान शिवांक ने योग के अनेक आसनों पर अपनी सिद्ध हासिल करते हुए महारात प्राप्त की है, शिवांक की लगन एवं योग देखकर लखनऊ स्थित बाबा रामदेव के पतंजलि केन्द्र ने इन्हें अपना प्रशिक्षक नियुक्त किया | पतंजलि केन्द्र में कुछ माह तक शिवांक ने अभ्यर्थियों को योग का विधिवत प्रशिक्षण प्रदान किया | परन्तु उनके योगाभ्यास में प्रशिक्षण से बाधा उत्पन्न होने पर शिवांक ने पतंजलि केन्द्र में कार्य छोड़ कर अपने घर पर अपना अभ्यास जारी रखा | कुछ कर गुजरने की तमन्ना शिवांक के दिल में हिलोरे मार रही थी जिसके चलते शिवांक ने पदबकासन में महारात हासिल की उसने अपना सारा ध्यान इसी आसन पर केन्द्रित कर दिया, उनकी यह मेहनत रंग लाई और शिवांक ने राजस्थान के शुभम पीहुलकर का रिकॉर्ड तोड़ते हुए आठ मिनट तीस सैकेंड का पदबकासन का रिकॉर्ड अपने नाम कर इतिहास रच डाला |
        शिवांक ने रिकार्डतोड़ यह कारनामा बीती 27 जुलाई को "दिव्य निर्माण एवं दिव्यपीठ" के समक्ष अपने आसन का प्रदर्शन करते हुए दिखाया | ज्ञातव्य है कि यह संस्था गोल्डन बुक ऑफ वर्ड रिकार्ड के लिए प्रतिभाओं का चयन करती है, योगासन के लिए इस संस्था ने शिवांक का चयन किया है | शिवांक का चयन होते ही उसके पिता चंद्रकिशोर अवस्थी को चहुंओर से बधाईयां मिल रही हैं |

        *शरद कपूर*
          *सीतापुर*

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad