मिश्रिख नैमिषारण्य क्षेत्र की चौरासी कोसी परिक्रमा को मिला प्रांतीय दर्जा - Ideal India News

Post Top Ad

मिश्रिख नैमिषारण्य क्षेत्र की चौरासी कोसी परिक्रमा को मिला प्रांतीय दर्जा

Share This
#IIN



शरद कपूर
सीतापुर-
जनपद के अति प्राचीन मेलों में से एक सीतापुर के मिश्रिख नैमिषारण्य तीर्थ के 84 कोसी परिक्रमा मेले को प्रांतीय मेले का दर्जा प्राप्त होने से लोगों में हर्ष की लहर दौड़ गई है |
इस संबंध में जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने बताया कि जिला सीतापुर में प्रत्येक वर्ष फाल्गुन माह में अमावस्या के पश्चात शुक्ल पक्ष प्रतिपदा से एक माह तक 84 कोसी होली परिक्रमा मेले को प्रांतीय मेला घोषित किया गया है, उन्होंने बताया कि संयुक्त प्रांत मेला अधिनियम 1938 संयुक्त प्रांत अधिनियम संख्या 16 सन 1938 की धारा 2 के अंतर्गत के संबंध में शासन शासन द्वारा आपत्तियां और सुझाव आमंत्रित किए जाने की तरफ से सरकारी अधिसूचना 2 सितंबर 2019 को गजट में प्रकाशित की गई थी| इस पर कोई आपत्ति या सुझाव निर्धारित समय के भीतर प्राप्त नहीं हुआ है अतः संयुक्त प्रांत मेला नियम 1931 की धारा 2 के आधीन शक्तियों का प्रयोग करके राज्यपाल ने जिला सीतापुर में प्रत्येक वर्ष फाल्गुन माह में अमावस्या के पश्चात शुक्ल पक्ष प्रतिपदा से एक माह तक 84 कोसी होली परिक्रमा मेले को प्रांतीय कृत मेला घोषित कर दिया है | इस मेले का क्षेत्र उत्तर में ग्राम पंचायत जसरथपुर दक्षिण में ग्राम पंचायत बरौली पूर्व में ग्राम पंचायत नारायणपुर तथा पश्चिम में परिक्रमा मार्ग निर्धारित किया गया है | उन्होंने बताया इससे इस प्राचीन मेले का और भव्यता के साथ आयोजन किया जा सकेगा तथा सुविधाओं में भी हो सकेगी |

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad