स्वतंत्रता संग्राम के प्रथम नायक थे मंगल पाण्डेय - Ideal India News

Post Top Ad

स्वतंत्रता संग्राम के प्रथम नायक थे मंगल पाण्डेय

Share This
#IIN
SANJAY PANDEY, MANOJ PANDEY
स्वतंत्रता संग्राम के प्रथम नायक थे मंगल पाण्डेय-

आजमगढ़/  मंगल पाण्डेय के जन्म दिवस  पर  रविवार को ब्राह्मण समाज कल्याण परिषद के महामंत्री बृजेश नन्दन पाण्डेय ने अपने एलवल स्थित आवास पर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए एक बैठक कर उनके व्यक्तित्व कृतित्व चर्चा कर उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया ।
 इस दौरान  ब्राह्मण समाज कल्याण परिषद के महामंत्री बृजेश नन्दन पाण्डेय ने बताया कि मंगल पाण्डेय 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के प्रथम नायक थे ।मंगल पाण्डेय ने 29 मार्च सन 1857 को दो अंग्रेज अधिकारियों मेजर ह्यूसन एवं लेफ्टिनेंट वाव को गोली मार कर अंग्रेजी सेना के खिलाफ आंदोलन की शुरुआत किया कर अंग्रेजी शासन की नींव को पूरी तरह हिला दिया था ।उनके  द्वारा अंग्रेजों के खिलाफ शुरू किये गये विद्रोह  ने देश केअन्य क्रांतिकारियों के अन्दर देश पर मर मिटने के जज्बे को देश की स्वतंत्रता तक जिंदा रखा ,यह उनका देश के लिए सबसे बड़ा योगदान है ।



 ब्राह्मण समाज कल्याण परिषद के प्रवक्ता मनोज कुमार त्रिपाठी  ने बताया कि मंगल पाण्डेय का जन्म 19 जुलाई 1827 में संयुक्त प्रान्त के (वर्तमान में उत्तर प्रदेश) बलिया जनपद के नगवा  गांव में एक साधारण ब्राह्मण परिवार में  हुआ था । उनके पिता का नाम दिवाकर पाण्डेय तथा माता का नाम अभय रानी था । सन 1849 में मात्र 22 वर्ष की उम्र में मंगल  पाण्डेय ब्रिटिश ईस्ट इण्डिया कम्पनी की सेना में शामिल हुये एवं एक देश भक्त सिपाही के रूप में अपने निजी स्वार्थ को त्याग कर  देश के स्वतंत्रता आंदोलन के लिए अंग्रेजी साम्राज्य के खिलाफ पहली गोली मंगल पाण्डेय ने ही चलाई ।
इस अवसर पर बैठक की अध्यक्षता विश्वदेव उपाध्याय ने किया तथा सतीश मिश्र,आनंद उपाध्याय, मनोज कुमार त्रिपाठी, संजय पाण्डेय आदि उपस्थित थे ।


भवदीय
मनोज कुमार त्रिपाठी
मीडिया प्रभारी
ब्राह्मण समाज कल्याण परिषद ,
आज़मगढ़

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad