लखनऊ में 50 हजार का इनामिया हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार - Ideal India News

Post Top Ad

लखनऊ में 50 हजार का इनामिया हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार

Share This
#IIN


Zainab Aqil Khan
लखनऊ
पीजीआइ थाने की पुलिस ने 50 हजार के इनामिया राम नेवाज सिंह को गिरफ्तार किया है। आरोपित फतेहपुर जिले के थरियांव थाने का हिस्ट्रीशीटर है। एसीपी कैंट डॉक्टर बीनू सिंह के मुताबिक राम नेवाज अलग-अलग नाम बदलकर रहता था, जिस पर कई थानों में 38 मुकदमे दर्ज हैं। संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध ने आरोपित पर 50 हजार का इनाम घोषित किया था। एसीपी कैंट ने बताया कि राम नेवाज पर राजधानी के अलावा फतेहपुर व सुल्तानपुर में भी हत्या, हत्या का प्रयास, जालसाजी व धमकी समेत कई मामले दर्ज हैं। 
अखाड़ा उदासीन नानक मठ चौक के महंत सुमन दास की मौत के बाद राम नेवाज आश्रम का फर्जी उत्तराधिकारी बन गया था। इसके बाद इसने अपने साथियों के साथ मिलकर आश्रम की जमीन का फर्जी ढंग से क्रय विक्रय शुरू कर दिया। राम नेवाज ने आश्रम के जमीन की फर्जी आईडी तैयार कर राजधानी के अलावा सुल्तानपुर व फतेहपुर में मठ की जमीनों पर कब्जा कर लिया। यही नहीं आरोपित ने अपने साथियों के साथ मिलकर पीठासीन महंत की हत्या, घटना से जुड़े गवाहों की हत्या तथा लोगों में डर फैलाने का काम भी किया। पीजीआइ थाने की पुलिस ने राम नेवाज को दीनदयाल सिंचाई विभाग पार्क के पास से बुधवार शाम को दबोच लिया। नाम बदलकर रह रहा था आरोपित पुलिस के मुताबिक राम नेवाज ने अपने कई नाम रखे थे और खुद को भरत दास उर्फ रामनेवाज दास बताता था। आरोपित खुद को गुरु नारायण दास, सरजू दास और रामजी दास का चेला बताता था। पुलिस ने आरोपित के पास से बंधुआ मुंशीगंज जिला अमेठी की एक आईडी भी बरामद की है। पुलिस के मुताबिक आरोपित के अन्य साथियों के बारे में पता लगाया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad