लॉक डाउन में जे एन वी की अध्यापिका कोरोना योद्धाऔं व बेजुबानो की कर रही हैं सेवा - Ideal India News

Post Top Ad

लॉक डाउन में जे एन वी की अध्यापिका कोरोना योद्धाऔं व बेजुबानो की कर रही हैं सेवा

Share This
#IIN
*लॉक डाउन में जे एन वी की अध्यापिका कोरोना योद्धाऔं व बेजुबानो की कर रही हैं सेवा
*

*सीतापुर*         *शरद कपूर*

सेवा परमो धर्मा इस मूल वाक्य को अपना मूल मंत्र मानकर जवाहर नवोदय विधयालय की अध्यापिका अर्चना पाठक अपने सहयोगियो के साथ कोरोना कॉल में लॉक डाउन के दौरान सुबह शाम कोरोना योद्धाऔं एवं बेज़बान जानवरों की सेवा कर रही हैं | उनकी सेवा भाव क्षेत्र में चर्चा का विषय बन चुका है और लोग इनके कार्य की भूरि भूरि प्रशंसा कर रहे हैं |
                        ज्ञातव्य है कि खैराबाद में बीती 6 अप्रैल को दस कोरोना पॉजटिव मरीजों के मिलने के बाद संपूर्ण क्षेत्र को हॉट स्पाट क्षेत्र घोषित कर सीज कर दिया गया था, इस दौरान भी अध्यापिका अर्चना पाठक का सेवा भाव बिना किसी भय व डर के निरंतर जारी रहा | हॉट स्पाट क्षेत्र घोषित होने के बाद सरकार से निर्धारित सभी सुरक्षा स्वास्थ्य नियमों का पालन पूरी ईमानदारी से करते हुए वह अपनी सेवा भाव को अंजाम दे रही थीं | खैराबाद स्थिति जेएलएमडीजे इण्टर कालेज एवं बुनियाद महाविधालय को जिले का क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है, तथा सीतापुर जवाहर नवोदय विधयालय खैराबाद में इसी के पास में स्थिति है | विधयालय की एस वी पी डब्ल्यू अध्यापिका अर्चना पाठक लॉक के प्रथम दिन से ही कोरोना कॉल में अपनी ड्यूटी को अंजाम देने वाले पुलिस के जवानों व जानवरों को यह प्रतिदिन प्रातः 6.30 बजे व शाम को 5.30 बजे अर्चना पाठक अपने सहयोगी विधयालय में कार्यरत दैनिक वेतनभोगी कर्मियों करण कुमार व अम्बिका के सहयोग से लोगों की सेवा निरंतर कर रही हैं |
               इतना ही नहीं अर्चना पाठक इस पुनीत कार्य के साथ ही पड़ोसी गांव करीम नगर में पांच परिवारों को एक एक माह का राशन भी प्रदान कर रही हैं, लॉक डाउन का यह दूसरा महीना चल रहा है और पाठक जी ने दोनों महीने पांच परिवार को पूरे माह का राशन देकर अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है | पूछने पर अर्चना पाठक कहती हैं कि देश के प्रति हमारा इतना कर्तव्य तो बनता ही है | वह कहती हैं कि हमारे पुलिस के जवान, डाक्टर भाई बहन एवं सफाई कर्मचारी कोरोना वायरस कॉल में अपनी जान जोखिम में डाल कर अपनी ड्यूटी को निभाते हुए देश सेवा कर रहे हैं | तो हम सभी को देश सेवा का यह अवसर मिला है, और फिर भारत का नागरिक होने के नाते देश के प्रति हमारा भी कुछ दायित्व बनता है | अर्चना पाठक की इस सेवा भाव की क्षेत्र में सर्वत्र चर्चा है और लोग उनकी इस लगन की खुले मन से सराहना कर रहे हैं |

1 comment:

  1. Kux log jarur duniya mai hote hai jinake liye sirf bhawanaye hoti h jinhe byakt nahi kiya ja sakta
    Aisi hi h meri pyari mam
    😘😘😘

    ReplyDelete

Post Bottom Ad