आपके खाने की पसंद रोक सकती है अगली महामारी - Ideal India News

Post Top Ad

आपके खाने की पसंद रोक सकती है अगली महामारी

Share This
#IIN



नई दिल्ली
कोरोना के वैक्सीन की अनुपस्थिति में पौष्टिक खानपान ही इम्यूनिटी बढ़ाने का जरिया है। लेकिन एक तरह का खाना जहां कोरोना का खतरा बढ़ाता है, वहीं दूसरे तरह का खानपान इस वायरस से आपकी रक्षा करता है। इसे देखते हुए पेटा की प्रेसिडेंट इंग्रिड ई न्यूकिर्क ने डब्ल्यूएचओ को चेतावनी दी है कि अगर एनिमल मार्केट बंद नहीं होंगे तो अगली महामारी का खतरा मंडराता रहेगा। एनिमल मार्केट की परिस्थितियां वायरस फैलने के अनुकूल होती हैं। गौरतलब है कि कोरोना महामारी का कारण वुहान के मीट मार्केट को ही बताया जा रहा है।
पेटा से जुड़ी लेखिका पुरवा जोशीपूरा ने कोविड 19 महामारी से अपनी किताब ‘फॉर ए मोमेंट ऑफ टेस्ट’ में महामारी का खतरा जताया है। विशेषज्ञों का मानना है कि खाने से जुड़ी आपकी पसंद-नापसंद ही अगली महामारी का कारण या समाधान बन सकती है। ऐसे में यह जानना बेहद जरूरी है कि हमें क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए। आइए, जानते हैं कि इस संबंध में क्या कहते हैं डाइटिशियन और विशेषज्ञ-
नॉर्थ-सेंट्रल रेलवे प्रयागराज के सेंट्रल अस्पताल की डाइटिशियन अपर्णा सक्सेना ने बताया कि नॉनवेज या अंडे खाने से नहीं, लेकिन इसे पकाने के प्रोसेस में खतरा जरूर है। कोई रिपोर्ट यह नहीं कहती है कि नॉनवेज के सेवन से खतरा है। हालांकि, जहां से नॉनवेज आ रहा है, वहां कितनी संक्रमण की आशंका है, यह हम नहीं जान सकते हैं। कच्चे मांस से संक्रमण की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है।

अपर्णा सक्सेना ने बताया कि इंडियन थाली अच्छे से खाएं। खाने में हल्दी, अदरक, लहसुन, कालीमिर्च और दालचीनी का इस्तेमाल करें। ये आपकी इम्युनिटी को बेहतर बनाएंगे। याद रहे कि इम्युनिटी एक-दो दिन में बेहतर नहीं होती है। ये एक लंबी प्रक्रिया है। नींबू खाने से भी इम्युनिटी बेहतर होती है। यह बेहतर एंटी-ऑक्सीडेंट है। नींबू दाल में डाल सकते हैं या नींबू पानी भी पी सकते हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad