उद्योग धंधों को मिलेगी संजीवनी - Ideal India News

Post Top Ad

उद्योग धंधों को मिलेगी संजीवनी

Share This
#IIN



चंदौली
लॉकडाउन फेज-4 में सशर्त दुकानों को खोलने की छूट मिल गई है। इससे उद्योगों को संजीवनी मिलने की उम्मीद जग गई है। दुकानें खुलने से दैनिक उपयोग के वस्तुओं की खपत बढ़ेगी और फैक्ट्रियों में उत्पादन के बाद माल डंप नहीं रहेगा। लॉकडाउन फेज तीन तक अधिकतर दुकानें बंद थीं। इसके चलते उद्यमियों को बाजार ढूंढ़ने में मशक्कत करनी पड़ रही थी। वहीं आर्थिक क्षति का भी सामना करना पड़ा। जिले में विभिन्न उत्पादन बनाने वाली 350 फैक्ट्रियां हैं।
वैश्विक महामारी की मार उद्योग धंधों पर पड़ी है। दैनिक उपयोग की वस्तुओं का उत्पादन करने वाली औद्योगिक इकाइयों को विशेष अनुमति देकर संचालित कराया जा रहा था, लेकिन उत्पादन के बाद माल के लिए बाजार नहीं मिल रहा था। दुकानें बंद होने की वजह से उत्पादित माल का निर्यात ठप पड़ा था। इसके चलते फैक्ट्रियों में रखा कच्चा माल व उत्पाद खराब हो रहे थे, लेकिन लॉकडाउन फेज-4 में सरकार ने अधिकतर दुकानों को सशर्त खोलने की इजाजत दे दी है। इससे अब उद्योग-धंधों के पटरी पर आने की संभावना बढ़ गई है। फैक्ट्रियों में उत्पादित माल के निर्यात का रास्ता साफ हो गया है। माल दुकानों तक पहुंचेगा। इससे खपत बढ़ेगी और उद्यमियों को मुनाफा होगा। हालांकि मजदूरों की कमी अब भी उद्योग के लिए बाधा बनी हुई है। लॉकडाउन में फैक्ट्रियों के मजदूरों के घर चले जाने के बाद उद्यमियों को अब स्थानीय मजदूरों से काम चलाना पड़ रहा है, लेकिन स्थानीय मजदूर कामकाज में उतने दक्ष नहीं है। इससे चलते परेशानी सामने आ रही है। सामान्य दिनों की अपेक्षा कम उत्पादन हो रहा है। उद्योग उपायुक्त गौरव मिश्रा ने बताया कि लॉकडाउन फेज-4 में दुकानों को खोलने की अनुमति मिल गई है। इससे उद्योग धंधों को भी गति मिलेगी। उद्यमियों को बाजार ढूंढ़ने के लिए परेशान नहीं होना होगा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad