श्रमिकों के पलायन से कंपनियों को नुकसान, नहीं मिल रहे कुशल कारीगर प्रवासी - Ideal India News

Post Top Ad

श्रमिकों के पलायन से कंपनियों को नुकसान, नहीं मिल रहे कुशल कारीगर प्रवासी

Share This
#IIN

DrManojChaube ShyamDhar Dube
पुणे
 पूरे देश में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन लागू है ऐसे में काफी संख्‍या में  प्रवासी श्रमिक परेशान होकर अपने घरों को पलायन का चुके हैं। जिससे पुणे समेत देश के तमाम शहरों के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग जगत को बुरी तरह से नुकसान हो रहा है। श्री इंजीनियरिंग कंपनी के मालिक और पिंपरी चिंचवाड़ लघु उद्योग संघ के अध्यक्ष संदीप बेलसारे ने बताया कि पिंपरी चिंचवाड़ में 11,000 MSMEs  हैं। देशव्यापी लॉकडाउन से पहले यहां साढ़े चार लाख कर्मचारी थे। जिनमें से तीन लाख श्रमिक दूसरे राज्य और शहर के रहने वाले थे। करीब दो सेे ढाई लाख श्रमिक अपने घर वापस लौट गए हैं। 
उन्होंने बताया कि कई मजदूर मार्च और अप्रैल माह का वेतन लेने के बाद अपने घरों के लिए रवाना हो गए। अब हम प्रवासी श्रमिकों पर निर्भरता कम करने के लिए सरकारी अधिकारियों से बात करने की योजना बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव के लिए उद्योग महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया का पूरी तरह पालन कर रहे हैं। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad