17 की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, एक की हुई मौत - Ideal India News

Post Top Ad

17 की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, एक की हुई मौत

Share This
#IIN   



Santosh Agarhari and Vijay Agarwal 
जौनपुर
जनपद में कोरोना महामारी का प्रसार तेजी से बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को बीएचयू से आई रिपोर्ट में 17 नए संक्रमित मिले हैं। इसमें से सिकरारा के मलसिल निवासी एक युवक की मौत हो चुकी है। पॉजिटिव आने वालों में 16 मुंबई तो एक व्यक्ति सूरत से आया। जानकारी के बाद जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई। आनन-फानन में 16 संक्रमितों को एल-1 अस्पताल में भर्ती कराने के साथ ही संबंधित गांवों को सैनिटाइज किया जाने लगा। सभी का 14 मई को नमूना लिया गया था। इसी के साथ जिले में पीड़ितों की संख्या बढ़कर 49 हो गई है। जिसमें से 43 प्रवासी हैं। पीड़ितों में 12 स्वस्थ हो चुके हैं जबकि एक की पहले ही मौत हो चुकी है।
गुरुवार को आई जांच रिपोर्ट में सिकरारा क्षेत्र के लाजीपार गांव निवासी अधेड़ दो बेटों के साथ सूरत से 12 मई को श्रमिक स्पेशल ट्रेन से आए थे। जांच के बाद बिहारी महाविद्यालय स्थित रैन बसेरा में क्वारंटाइन थे। 14 मई को थर्मल स्क्रीनिग के बाद नमूना लेकर होम क्वारंटाइन में रहने की हिदायत देकर घर भेज दिया गया था। इसी तरह महराजगंज ब्लाक के कठार गांव निवासी युवक मुंबई से स्पेशल ट्रेन से घर पहुंचा। थर्मल स्क्रीनिग के बाद 14 मई को नमूना लेकर होम क्वारंटाइन में भेज दिया गया था। इसी ब्लाक के असुआपार गांव निवासी युवक मुंबई से घर आया था। उसका भी नमूना लिया गया था। जो गांव के विद्यालय में क्वारंटाइन था। वहीं बड़ी अहिरौली प्यारेपुर निवासी युवक 14 मई को मुंबई से जौनपुर ट्रेन से आया। उसे बस से बदलापुर भेजा गया। जहां नमूना लेकर होम क्वारंटाइन में भेज दिया गया था। इसी तरह सोंधी के शाहापुर गांव का युवक ट्रक से 13 मई की शाम जौनपुर पहुंचा। ट्रक पर 55 मजदूर सवार थे। उसे 14 मई को आदर्श भारती विद्यापीठ खेतासराय में क्ववारंटाइन किया गया। इसी प्रकार सबरहद गांव निवासी युवक भी मुंबई से आया था। थानागद्दी क्षेत्र नाऊपुर गांव निवासी वृद्ध अपनी बेटी के साथ 14 मई को मुंबई से स्पेशल ट्रेन से प्रयागराज पहुंचा। वहां से बस से मछलीशहर स्थित क्वारंटाइन सेंटर लाया गया। संक्रमण का लक्षण दिखने पर उनका नमूना लेकर होम क्वारंटाइन में भेज दिया गया था। चंदवक क्षेत्र के हरिदासीपुर गांव निवासी अधेड़ पिकअप से 13 मई को सिधौरा आया। यहां से उसका भाई लेकर घर आया। अगले दिन थर्मल स्क्रीनिग के बाद नमूना लेकर घर भेज दिया गया था। वहीं भैंसा निवासी युवक स्पेशल ट्रेन से मुंबई से घर आया। उसका भी नमूना 14 मई को लेकर बस से घर भेज दिया गया था। दोनों होम क्वारंटाइन में थे। हरिहरपुर गांव निवासी अधेड़ व सिधौली निवासी महिला श्रमिक स्पेशल ट्रेन से जौनपुर उतरे थे। जांच में संक्रमण का लक्षण दिखने पर दोनों का नमूना लेकर पार्वती पब्लिक स्कूल में क्वारंटीन किया गया था। दोनों की रिपोर्ट पाजिटिव आयी है। सबसे अधिक मड़ियाहूं में कोरोना पीड़ितों में सबसे अधिक पांच मड़ियाहूं क्षेत्र के हैं। सभी पीड़ित नगर के स्वामी विवेकानंद इंटर कॉलेज में बनाए गए शेल्टर होम में रह रहे थे। दिलावरपुर निवासी युवक 13 मई को मुंबई से 12 लोगों के साथ बोलेरो से घर आया था। अगले दिन थर्मल स्क्रीनिग में तापमान अधिक मिलने पर नमूना लिया गया था। वहीं उंचनी कला निवासी युवक ट्रक से अकेले मुंबई से 14 मई को घर पहुंचा। स्क्रीनिग के बाद उनका नमूना जांच को भेजा गया। रामनगर विकास खंड के गुतवन निवासी युवक 12 मई को घर आया। 13 मई जांच के बाद क्वारंटाइन किया गया। इसी ब्लाक के जौगीपुर गांव निवासी महिला 12 मई को मुंबई से कार से परिवार के साथ घर आयी थी। संक्रमण का लक्षण दिखने पर उनका भी नमूना लेकर भेजा गया था। सपही मैनपुर निवासी युवक 13 मई को मोटरसाइकिल से एक अन्य के साथ घर आया था। अगले दिन जांच में संक्रमित होने पर नमूना लेकर जांच के लिए भेजा गया था। जिलाधिकारी के निर्देश पर आनन-फानन में सभी गांवों को हाट स्पाट के रूप में चिन्हित करके सील करने की तैयारी की जा रही है। पीड़ित को एंबुलेंस से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रैन बसेरा मीरगंज में बने एल-1 अस्पताल में भेजा गया है। इनके संपर्क में आने वालों को चिन्हित कर परीक्षण किया जा रहा है। मृतक की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, हड़कंप जौनपुर: जिला चिकित्सालय में उपचार के दौरान मृत युवक कोरोना से संक्रमित था। गुरुवार को रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य महकमे में खलबली मच गई। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad